Thursday, July 18, 2024
HomeHindiपिछले ५ वर्ष में योगी जी ने कौन सा विकास किया?

पिछले ५ वर्ष में योगी जी ने कौन सा विकास किया?

Also Read

Nagendra Pratap Singh
Nagendra Pratap Singhhttp://kanoonforall.com
An Advocate with 15+ years experience. A Social worker. Worked with WHO in its Intensive Pulse Polio immunisation movement at Uttar Pradesh and Bihar.

आओ हम तुम्हें बताते हैं गौर से पढना कि पिछले ५ वर्षों में कैसे एक योगी ने उत्तर प्रदेश को देखते हि देखते उत्तम प्रदेश बना दिया। जैसा कि पवित्र ग्रंथ भगवत गीता के अध्याय ९ श्लोक २२ में परमयोगी भगवान श्री कृष्ण स्वय कहते हैं:-

“अनन्याश्चिन्तयन्तो मां ये जना: पर्युपासते।

तेषां नित्याभियुक्तानां योगक्षेमं वहाम्यहम्।। गीता ९/२२।।

अर्थ: जो भक्तजन अनन्य भाव से मेरा चिंतन करते हुए मुझे पूजते हैं, ऐसे नित्ययुक्त साधकों के योगक्षेम को मैं स्वयं वहन करता हूं।
व्याख्या: जिस व्यक्ति के मन में हर समय केवल परमात्मा ही बसें हों और उनसे बढ़कर दुनिया में उसके लिए अन्य कोई न हो, वही भक्त है। भगवान कह रहे हैं कि जो भक्त केवल मेरा ही हर पल चिंतन करते हुए अन्य कोई भी भाव को अपने भीतर नहीं लाता और केवल मेरा ही पूजन करता है, ऐसे निरंतर परमात्मा से जुड़े साधकों की साधना की रक्षा मैं स्वयं करता हूं।अर्थात भक्त ने जो भी साधना आज तक की है, वह संस्कार रूप में चित्त में जाकर इक्कट्ठी हो जाती है, फिर उसका नाश नहीं होता, क्योंकि परमात्मा उसकी रक्षा करते हैं और वह साधना, साधक को अध्यात्म मार्ग में आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करती रहती है।

उत्तर प्रदेश के सम्माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी जी ऐसे ही भक्त हैं, जिन्होंने अपने सेवा धर्म का ह्रदय से पालन करते हुए उत्तर प्रदेश की धरती पुन: पवित्र कर दिखाया। एक योगी के धर्म का पालन करते हुए उन्होंने भेदभाव रहित सुशासन किया और अत्योन्दय के परिकल्पना को साकार करते हुए समाजिक सरंचना मे सर्वाधिक उपेक्षित गरीब, वंचित, शोषित और पीड़ित को मुस्कराने का अवसर प्रदान किया।

सर्वप्रथम हम किसान भाइयों के विषय में उल्लेखनीय कार्यों कि सूची हम दर्शा रहे हैं, आप भी ध्यान दे दीजिये:-
किसान:
१:- प्रदेश के ८६ लाख किसानों का ३६ हजार करोड़ रुपये का कर्ज माफ कर दिया; २:-सरकार द्वारा ४३५ लाख मीट्रिक टन खाद्यान्न की खरीद की गई और किसानों को ७९,००० करोड़ रुपए का भुगतान किया; ३:- ४५.५ लाख से अधिक गन्ना किसानों को १.३५ लाख करोड़ से अधिक का भुगतान किया; ४:-३.५ लाख करोड़ से अधिक का फसल ऋण वितरण किया;
५:-३.७७ लाख हेक्टेयर से अधिक अतिरिक्त सिंचाई क्षमता में वृद्धि कि गई; ६:-निराश्रित गौवंशों के लिए आश्रय स्थल का निर्माण करवाया; ७:-गौवंशों के पालकों को प्रति गौवंश प्रति माह 900₹ की सहायता देना; ८:-एमएसपी पर रिकॉर्ड खरीद करने वाला प्रदेश बना; ९:-कोरोना कालखंड में ३७८ लाख मीट्रिक टन खाद्यान की खरीद की गयी; १०:-उत्तर प्रदेश किसान समृद्ध आयोग का गठन करके १.८० करोड़ से अधिक किसानों में किसान क्रडिट कार्ड बांटे गए; ११:-२० नये कृषि विज्ञान केंद्रों की स्थापना की गयी;१२:- ४५ कृषि उत्पाद मंडी शुल्क से मुक्त की गई; १३:-मुख्यमंत्री कृषक दुर्घटना कल्याण योजना के तहत 500 करोड़ का बजट बनाया गया;१४:- मंडी शुल्क में १ प्रतिशत की कमी की गयी; १५:-भारत सरकार ने योगी सरकार को २ करोड़ रुपये के कृषि कर्मण पुरस्कार से पुरस्कृत किया; १६:-मछली पालन के लिए ठेका की अवधि तीन वर्ष से बढ़ाकर 10 वर्ष कर दी गयी; १७:- कृषि फसल बीमा योजना, प्रधानमंत्री सीचाई योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना और हर वर्ष किसानों के खातों में ६००० रुपये डालने से किसानों कि स्थिति में अभूतपूर्व सुधार हुआ है।और उपरोक्त सुधारो को विपक्ष आँखे खोलकर अनदेखा करता रहा है।

अब् आइये देखते है कि योगी जी ने स्वास्थ्य के क्षेत्र् में क्या विकास दिया है उत्तर प्रदेश को:-
१:-उत्तर प्रदेश के ५९ जिलों में से प्रत्येक में कम से कम १ क्रियाशील मेडिकल कॉलेज की सुव्यवस्था;२:- ३५ नए मेडिकल कॉलेज का निर्माण कराया; ३:- पीपीपी मॉडल पर १६ जिलों में शुरू हुआ मेडिकल कॉलेज का संचालन; ४:-गोरखपुर व रायबरेली में एम्स(AIIMS) का संचालन; ५:-पूर्वांचल में इंसेफेलाइटिस की गंभीर बीमारी में ९५% कमी
६:-इंसेफेलाइटिस से मुकाबला करने के लिए ३८ से अधिक अस्पतालों में अलग वार्ड बनवाये और मासूमों कि जिन्दगी बचाई; ७:- ६ नए सुपर स्पेशियलिटी मेडिकल ब्लॉक की स्थापना; ८:-अटल बिहारी चिकित्सा विश्वविद्यालय का निर्माण
९:- गोरखपुर में गुरू गोरक्षनाथ आयुष चिकित्सा विश्वविद्यालय का निर्माण; १०:- स्कूलों में मिड डे मील के स्तर में अभूतपूर्व सुधार तथा१०:- आयुष्मान योजना के तहत प्रदेश वासियों को चिकित्सा का भरपूर लाभ दिया।

अब ज़रा Infrastructure के विकास को भी देख और परख ले हम, तो आइये देखते हैं, योगी जी का दिया हुआ विकास क्या है:-इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट:

१:- दिल्ली से वाराणसी वाया अयोध्या बुलेट ट्रेन प्रस्तावित; २:-लखनऊ, कानपुर, प्रयागराज, वाराणसी, आगरा, सहारनपुर, बरेली, झांसी, मुरादाबाद और अलीगढ़ में २०,००० करोड़ रुपये की स्मार्ट सिटी योजना का क्रियान्वयन;३:- अमृत योजना के तहत प्रदेश के ६० शहरों में पेयजल, सीवरेज व नगरीय यातायात के लिए कार्य किये जा रहे हैं; ४:- २१ से अधिक बंद पड़ी चीनी मिलों को चालू करवाया और उनकी पेराई क्षमता में अभूतपूर्व वृद्धि प्राप्त किया; ५:- उत्तर प्रदेश ५ इंटरनेशनल एयरपोर्ट वाला देश का पहला राज्य बना; ६:- ४६ वर्षों से लंबित बाणसागर परियोजना को पूर्ण करने का गौरव प्राप्त किया; ७:- डिफेंस कॉरिडोर; ८:-इंडस्ट्रियल कॉरिडोर; ९:- फिल्म सिटी (नोयडा) कि स्थापना और विकास का क्रियान्वयन युद्धस्तर पर; १०:-एशिया का सबसे बड़ा एथेनॉल प्लांट का निर्माण उत्तर प्रदेश में; ११:-एशिया का सबसे बड़ा नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट, जेवर में निर्माण कार्य आरम्भ; १२:-अमेठी में AK-203 राइफल निर्माण करने की फैक्ट्री कि स्थापना; १३:-बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे; १४:-पूर्वांचल एक्सप्रेसवे १६:-गोरखपुर लिंक एक्सप्रेसवे; १७:-गंगा एक्सप्रेसवे; १८:-दिल्ली मेरठ १४ लेन का एक्सप्रेसवे; १९:-दिल्ली मेरठ RRTS; २०:-कानपुर मेट्रो, २१:-लखनऊ मेट्रो, २२:- वाराणसी में रोप वे २३:-गोरखपुर मेट्रो; २४:-आगरा मेट्रो; २५:- झांसी मेट्रो; २६:-गाजियाबाद मेट्रो; २७:-नोएडा मेट्रो; २८:-मेरठ मेट्रो २९:-लखनऊ में अत्याधुनिक प्रत्यक्ष कर भवन; ३०:-लखनऊ में अत्याधुनिक पुलिस मुख्यालय; ३१:- मथुरा में अत्याधुनिक बस टर्मिनल; ३२:-वाराणसी में २ विश्वस्तरीय कैंसर हॉस्पिटल तथा ३३:-13 हजार किलोमीटर से अधिक नई सड़कों का निर्माण। मित्रों ये आंकड़े उत्तर प्रदेश में विकास कि गति को दरशाने के लिए पर्याप्त होंगे।

अब आ जाते हैं रोजगार के क्षेत्र् में क्या विकास हुआ है?
१:- ८२ लाख एमएसएमईज को २१६० करोड़ रुपये का ऋण मिला है जिससे लगभग 2 करोड़ लोगों के लिए रोजगार के अवसर का निर्माण हुआ; २:-४.५ लाख सरकारी पदों पर नियम क़ानून के साथ भेदभाव रहित भर्ती कि गई; ३:-कोरोना कालखंड में दूसरे राज्यों से आए ४० लाख से अधिक श्रमिकों को रोजगार से जोड़ा गया; ४:-मनरेगा में १.५ करोड़ श्रमिकों को १०१ करोड़ से अधिक मानव दिवस का रोजगार दिया गया; ५:- प्रधानमंत्री मुद्रा रोजगार योजना ने युवाओं को मालिक बनने का सुअवसर प्रदान किया; ६:-स्टार्टअप इंडिया और मेक इन इंडिया ने रोजगार के नए अवसर प्रदान किए।

रोजगार, स्वास्थ्य और इन्फ्रास्ट्रक्चर के विकास के पश्चात शिक्षा के क्षेत्र् में किया गया योगी जी का विकास, एक दृष्टि तो डालिये:- १:-मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के तहत प्रतियोगी अभ्यर्थियों को परीक्षा की तैयार के लिए निःशुल्क कोचिंग सुविधा; २:- ३ नए राज्य विश्वविद्यालय की स्थापना; १९४ राजकीय माध्यमिक विद्यालय और ५१ राजकीय महाविद्यालय की स्थापना; ३:- २८ इंजीनियरिंग कॉलेज की स्थापना; ४:-२६ पॉलीटेक्निक कॉलेज की स्थापना; ५:-७९ आईटीआई की स्थापना; ६:- २८४ इंटर कॉलेज की स्थापना; ७:- ७७१ कस्तूरबा विद्यालयों की स्थापना; ८:-१.३५ लाख से अधिक सरकारी स्कूलों का कायाकल्प; ९:-प्राथमिक विद्यालय में बच्चों को निशुल्क ड्रेस, जूते मोजे, स्कूल बैग और पुस्तकों का वितरण; १०:-बालिकाओं के लिए स्नातक तक निःशुल्क शिक्षा; ११:- १.७८ करोड़ से अधिक छात्र छात्राओं को १३,६00 करोड़ से अधिक की दशमोत्तर छात्रवृत्ति का दिया जाना। इस प्रकार योगी जी ने बचपन से लेकर पोस्ट ग्रेजुएशन तक शिक्षा के प्रबंधन में अभूतपूर्व और अति उल्लेखनीय कार्य किया।

अब हम क़ानून व्यवस्था के बारे में कैसे भूल सकते हैं, इसका उल्लेख तो होना हि चाहिए:-सुशासन: १:-गुंडे माफियाओं की २,००० करोड़ से अधिक की संपत्ति जब्त; २:-स्वामित्व योजना का सफलतापुर्वक क्रियान्वयन; ३:-वीरासत अभियान के तहत जमीन से जुड़े ८ लाख से अधिक मामलों का निस्तारण; ४:-२०१३ के बाद यूपी में क्राइम रेट सबसे कम; ५:- सभी १५३५ थानों पर महिला हेल्प डेस्क स्थापित; ६:-दंगाइयों के खिलाफ कानून;७:- लव जिहाद, जबरन धर्मांतरण के खिलाफ कानून; ८:-प्रदेश में २१३ नये थानों की स्थापना की गयी; ९:-प्रदेश में ई-टेंडरिंग की व्यवस्था शुरू की गयी; १०:- रोमियो दस्ते का निर्माण और क्रियान्वयन; ११:- खूंखार अपराधियों का एन्काउन्टर;१२:- आतंक और अपराध के प्रति zero tolerance कि निति का कड़ाई से पालन। इस प्रकार जनता को खुलकर जीने और अपराधियों को खौफ में जीने का अवसर योगी जी के सुशासन ने दिया।

सबका साथ सबका विकास के कथन को चरितार्थ कर दिया योगी जी ने, आइये देखिये कैसे:-
१:-हर घर नल से जल योजना के तहत ३० हजार ग्राम पंचायतों में शुद्ध पेयजल की योजना लागू की गई है; २:- प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत ४२ लाख से अधिक घरों का निर्माण किया गया और आवंटन किया गया; ३:-मुख्यमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के तहत १,०८,४९५ आवासों का निर्माण किया गया; ४:-बिजली की हर गांव, हर घर में पहुँच,, बिजली का दाम आधा किया; ५:- १.२१ लाख से अधिक गांवों को निर्बाध बिजली आपूर्ति; ६:-निःशुल्क कोविड जांच, निःशुल्क टीकाकरण और निःशुल्क उपचार ; ७:-९ करोड़ से ज्यादा लोगों को टीका लगाने वाला देश का पहला राज्य; ८:-२.७८ लाख COVID परीक्षण प्रतिदिन करने वाला पहला राज्य; ९:- COVID जाँच के लिए २३४ प्रयोगशालाओ का निर्माण; १०:-१.८ लाख कोविड बेड्स की उपलब्धता; ११:- ५५५ ऑक्सीजन संयंत्र स्वीकृत, ३९२ कार्यशील; १२:-वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन ने यूपी सरकार के कोरोना प्रबंधन प्रयासों की प्रशंसा की और इसका महत्व हम इसी बात से लगा सकते हैं कि अमेरिका दुनिया का सबसे विकसित देश होने के और सबसे बढ़िया स्वास्थ्य सम्बन्धित सुविधाएं जुटाने के बावजूद भी अपनी ३५ करोड़ कि आबादी में ६ लाख लोगों कि मौत को नहीं रोक पाया वही उत्तर प्रदेश में योगी जी के नेतृत्व में २५ करोड़ कि आबादी में से केवल २५ से ३० हजार नागरिकों को हि खोया, ईश्वर उन सबकी आत्मा को मोक्ष प्रदान करें। यही नहीं योगी बाबा ने हर वरिष्ठ नागरिक, विधवा, दिव्यांग और बेसहारा महिला को पेंशन देने का लक्ष्य निर्धारित किया और अब तक ९० लाख वृद्धों, दिव्यांगों, विधवाओं और निराश्रित महिलाओं को ₹५०० मासिक पेंशन देना शुरू कर दिया गया है इसके आलावा शादी अनुदान योजना के तहत १.५२ लाख गरीब कन्याओं का विवाह, अनुदान राशि ५१००० की गई वही ७ लाख से अधिक गरीब कन्याओं की पढ़ाई के लिए कन्या सुमंगला योजना के तहत सहायता पहुंचाई गई और तो और मुफ्त राशन के अलावा ८.८० लाख पटरी दुकानदारों को कोरोना कालखंड में १०००₹ का पोषण भत्ता भी प्रदान किया गया।

डबल इंजन का दम भी उत्तर प्रदेश में खूब दिखा जब योगी और मोदी जी कि जोड़ी ने विकास के नए नए आयाम स्थापित करना शुरू कर दिया उदाहरण के लिए:-
१:-यूपी में पीएम जनधन योजना के तहत ७.५३ करोड़ खाते खुले;२:- स्टैंडअप इंडिया योजना के तहत यूपी में १४८७२ खाते स्वीकृत हुए; ३:-प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के तहत यूपी में ५,२१४ दावों को १०४ करोड़ का भुगतान किया गया;
४:-प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के तहत यूपी में ३६,७२३ दावों को ७३४ करोड़ का भुगतान किया गया; ५:-यूपी में ५१.४० लाख लोगों को मिला अटल पेंशन योजना का लाभ;
६:-मुद्रा योजना के तहत यूपी में २.९० करोड़ लोगों को १.५० लाख करोड़ से अधिक का ऋण दिया गया; ७:- यूपी के १.५ करोड़ से अधिक परिवारों को मुफ्त उज्जवला गैस कनेक्शन दिया गया; ८:-२.६१ करोड़ से अधिक शौचालय का निर्माण कराया गया; ९:-आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत यूपी के १.२ करोड़ परिवारों को ५ लाख का स्वास्थ्य बीमा दिया गया; १०:-प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना से २५ लाख से अधिक माताएं लाभान्वित हुई; ११:-प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत २.४१ करोड़ किसानों के खातों में ३० हजार करोड़ रुपये की राशि भेजी गयी! और ये सब हुआ जब केंद्र और राज सरकार के मध्य अद्भुत तालमेल हो।

योगी जी के द्वारा किये गए विकास के कार्यों का उत्तर प्रदेश को क्या फायदा हुआ? आइये देखें कैसे उत्तर प्रदेश बना उत्तम प्रदेश:- १:-भारत की जीडीपी में सर्वाधिक योगदान करने वाला देश का दूसरा राज्य; २:-प्रदेश की अर्थव्यवस्था १०.९० लाख से बढ़कर २१.७३ लाख करोड़ हो गयी; ३:-ईज ऑफ डूइंग बिजनेस रैंकिंग में यूपी 14वें स्थान से दूसरे स्थान पर पहुंचा; ४:- यूपी में १.८८ लाख करोड़ से अधिक का औद्योगिक निवेश हुआ; ५:-इन्वेस्ट समिट में ४.६८ लाख करोड़ के MoU पर हस्ताक्षर हुए; ६:-कोरोना कालखंड में ५६ हजार करोड़ का विदेशी निवेश प्रस्ताव प्राप्त हुआ; ७:-यूपी में सैमसंग का सबसे बड़ा मैन्युफैक्चरिंग प्लांट स्थापित किया गया; ८:-नोएडा में पहले डेटा सेंटर का निर्माण; ९:-यूपी में प्रति व्यक्ति आय दोगुनी हुई; १०:-दूध उत्पादन में उत्तर प्रदेश देश में पहले स्थान पर है; ११:- यूपी इलेक्ट्रॉनिक मैन्युफैक्चरिंग हब बन रहा; १२:-इसरो का RAC-S एकेडमिक सेंटर बन रहा; १३:-२०३० तक २३.५ गीगावाट का सोलर हब प्रस्तावित हुआ।

अब विपक्षियों योगी जी को शिक्षा, स्वास्थ्य, सुशासन, सड़क और बिजली पानी पर घेरने से पहले उपर्युक्त वर्णित अकाट्य तथ्यों व आकड़ो पर एक दृष्टि डाल लेना।

क्योंकि हमारे शास्त्रों ने सदैव कहा है कि यमनियमासनप्राणायामप्रत्याहारधारणाध्यानसमाधयोऽष्टावङ्गानिहिंदी अर्थ:- यम, नियम, आसन, प्राणायाम, प्रत्याहार, धारणा, ध्यान और समाधि; ये आठ योग के अंग हैं । और इसके साथ यह भी बताया है कि
तपःस्वाध्यायेश्वरप्रणिधानानि क्रियायोगः॥२.१॥
तपः, स्वाध्याय, ईश्वर-प्रणिधानानि, क्रिया-योग: ॥
हिंदी अर्थ:- तप, अध्यात्मशास्त्रों के पठन-पाठन और ईश्वर शरणागति – ये तीनों क्रिया योग हैं। और हमारे योगी जी इन सभी क्रियाओ और अष्ट योग के ज्ञाता और पालन करने वाले हैं इसलिए योगिराज के पांच साल बेमिसाल…

Nagendra Pratap Singh (Advocate)

  Support Us  

OpIndia is not rich like the mainstream media. Even a small contribution by you will help us keep running. Consider making a voluntary payment.

Trending now

Nagendra Pratap Singh
Nagendra Pratap Singhhttp://kanoonforall.com
An Advocate with 15+ years experience. A Social worker. Worked with WHO in its Intensive Pulse Polio immunisation movement at Uttar Pradesh and Bihar.
- Advertisement -

Latest News

Recently Popular