Saturday, June 25, 2022
91 Articles by

Nagendra Pratap Singh

An Advocate with 15+ years experience. A Social worker. Worked with WHO in its Intensive Pulse Polio immunisation movement at Uttar Pradesh and Bihar.

भारत को भिखारियों का देश कहने वाला अमेरिका आज खुद भीख मांग रहा

सही वक्त पर लोकतंत्र ने सत्ता का परिवर्तन करके नकारे लोगों के हाथों से सत्ता लेकर एक राष्ट्रभक्त और भारत के जनमानस के जीवन को बारीकी से जीने वाले व्यक्तित्व के हाथों में सौंप दी और आज पूरा विश्व भारत के आगे नतमस्तक है।

बडबोले नवजोत सिंह सिद्धू अर्श से फर्श पर और अब कैद

हम नवजोत सिंह सिद्धू को क्रिकेटर से कॉमेंटेटर फिर भाजपा के नेता फिर कांग्रेस के चाटुकार फिर बाजवा और इमरान का यार और अंतत: एक कैदी बनते हुए देख रहे हैं।

The places of worship (special provisions) act, 1991, काशी विश्वनाथ मंदिर और ज्ञानवापी मस्जिद

मुसलिम तुष्टिकरण के अंधी दौड़ में आँखे बांधकर दौड़ने वाली अंग्रेजो द्वारा निर्मित कांग्रेस किस प्रकार हम सनातन धर्मीयो को धोखा देती चली आ रही है। खैर ये अधिनियम तो बिलकुल भी ओवैसी और कश्मीर की ज़हर उगलने वाली खातून मेहबूबा मुफ़्ती को कुछ भी नहीं दे पायेगा।

आपदा सदैव एक अवसर के साथ आती है

जब पूरे विश्व में कोरोना काल का भयानक दौर चल रहा था, सर्वत्र त्राहि माम त्राहि माम की असहनीय दशा अपने चरम पर थी, तब हमारे प्रधानमंत्री (श्री नरेंद्र दामोदरदास मोदीजी) ने देशवासियो का हौसला बढ़ाते हुए कहा था कि इस आपदा से घबराने की आवश्यकता नहीं है, अपितु इसका डटकर सामना करने की आवश्यकता है, इस आपदा को अवसर में बदलने की आवश्यकता है!

भारत कि सशक्त और धाकड़ विदेश नीति।

भारत ने अपनी विदेश नीति को श्री एस जयशंकर जी के नेतृत्व में अत्यधिक शसक्त और सुदृढ़ बना दिया है।

राजस्थान वक्फ बोर्ड को सर्वोच्च न्यायालय से जोर का झटका धीरे से मिला

आदरणीय सर्वोच्च न्यायालय ने वक्फ बोर्ड को आईना दिखाते हुए दिनांक २९/०४/२०२२ को  एक ऐतिहासिक निर्णय दिया, जिसके बारे में हम सभी को जानना आवश्यक है।

काशी विश्वनाथ मंदिर और बाह्य अक्रान्ताओ का आक्रमण

दैवीय और असुरी शक्तियों के मध्य अनादिकाल से ही सम्पूर्ण ब्रह्माण्ड के सञ्चालन के संदर्भ में मतभेद रहे हैं और इसी कारण असुरी शक्तियों ने सदैव दैवीय शक्तियों के विनाश के लिए अनवरत प्रयास किया है

लिथुवानिया, चीन के विरुद्ध भारत का नया मित्र

सोवियत संघ के विघटन के फलस्वरुप स्वतन्त्र हुआ एक छोटा सा देश है लिथुवनिया। इस देश की सीमाएं पोलैंड से मिलती हैं। लिथुवानिया अब यूरोपिय यूनियन का सदस्य है।

अल्पसंख्यक आयोग: देश के बहुसंख्यक समाज के साथ एक छलावा

हम बहुसंख्यक समाज के साथ वर्ष १९४७ में धोखा किया गया, क्योंकि हम सनातन धर्मीयो को तो केवल एक देश मिला पर इन मुसलिम मजहब के लोगों ने ना केवल पाकिस्तान ले लिया बल्कि भारी मात्रा में ये हिंदुस्तान में ही रह गए और इस प्रकार बड़ी धूर्तता से उस समय के कुछ धोखेबाज अंग्रेजो के गुलामो के कारण ये पूरी तरह  जम गए।

Prize Chits and Money Circulation Schemes (Banning) Act, 1978, Enforcement Directorate (ED) & “एमवे इंडिया” भाग-3

इसके पूर्व के दो भागों में हमने Amway India के व्यापारिक कार्यशैली और इस कंपनी के द्वारा  Prize Chits and Money Circulation Schemes (Banning) Act, 1978, के सुसंगत प्रावधानों के अंतर्गत किये जाने वाले अपराध और उससे समबन्धित दंड के बारे में चर्चा की परन्तु वर्तमान समय में Enforcement Directorate (ED) के द्वारा कार्यवाही करने से मनी लॉन्ड्रिंग  का कोण भी सामने आया है अर्थात Amway India भी मनी लॉन्ड्रिंग के अपराध में शामिल है।

Latest News

Recently Popular