Saturday, June 25, 2022
91 Articles by

Nagendra Pratap Singh

An Advocate with 15+ years experience. A Social worker. Worked with WHO in its Intensive Pulse Polio immunisation movement at Uttar Pradesh and Bihar.

राष्ट्रवाद और राष्ट्रवादी क्यों जरूरी है?

यूक्रेन कि जनता भौतिक सुख सुविधाओं का भोग करने कि इतनी आदत हो चुकी है, कि उनके लिए ना तो राष्ट्र का कोई मतलब है और ना राष्ट्रवाद से कोई लेना देना। उन्हें इस बात की परवाह हि नहीं रही की युक्रेन उनका अपना देश है वो केवल इसे मिट्टी का एक टुकड़ा भर समझते रहे।

क्या आप जानते हैं कि भारत का संविधान हस्तलिखित है?

आपको इस तथ्य से अवगत होने में आश्चर्य महसूस होगा कि पूरे संविधान को लिखने के लिए किसी भी उपकरण का इस्तेमाल नहीं किया गया था अपितु दिल्ली के रहने वाले स्व श्री प्रेम बिहारी नारायण रायजादा ने अपने हाथों से इटैलिक शैली में इस विशालग्रंथ, अर्थात संपूर्ण संविधान को लिखा था।

कांग्रेस का गठन एक षड्यंत्र: भाग -२

ईंदिरा या ईंडिकेट कांग्रेस के लोगो ने मान लिया की अब परिवार की खुशामदगिरी मे ही राजनितिक भविष्य है और इस तरह लोकतंत्र लगभग खत्म हो गया! उधर ओरिजिनल कांग्रेस का सिंडिकेट कांग्रेस अपने अंतीम पड़ाव पर धिरे धिरे पहुँचने लगी।

कांग्रेस का गठन एक षड्यंत्र

आरंभिक दिनो मे इस पार्टी का उद्देश्य ब्रिटेन से भारत की आजादी की लड़ाई लड़ना नहीं था। कांग्रेस का गठन देश के प्रबुद्ध लोगों को एक मंच पर साथ लाने के उद्देश्य से किया गया था ताकि देश के लोगों के लिए नीतियों के निर्माण में मदद मिल सके। क्रांतिकारीयों के गतिविधियों का पता लगाया जा सके और उनके आंदोलन को कूचला जा सके।

मनमोहन सिंह का एक और पाप जो राष्ट्र के साथ धोखा था

प्रधानमंत्री श्री मनमोहन सिंह के १० वर्षो के कार्यकाल में जितने घोटाले और भ्रष्टाचार हुए उतने तो पूरी कांग्रेस ने मिलकर उससे पहले के ४५ वर्षो में भी नहीं किये थे और एक तरह से घोटालेबाजी और भ्रष्टाचार के साथ साथ मनमोहन सिंह के नेतृत्व में राष्ट्र के साथ सबसे बड़ा धोखा किया गया था जिसे हम एंट्रीक्स-देवास डील के नाम से जानते हैं।

न्याय का गर्भपात एक बार फिर

रोप सामने आते हि जितनी ईसाई मिशनरियां थी वो सबकी सब नन के विरोध मे और आरोपी पादरी फ्रैंको मुल्क्कल के साथ आकर खड़ी हो गई बेचारी नन डर गई सहम गई और घबरा गई पर उसने हिम्मत नहीं खोया।

पिछले ५ वर्ष में योगी जी ने कौन सा विकास किया?

गौर से पढना कि पिछले ५ वर्षों में कैसे एक योगी ने उत्तर प्रदेश को देखते हि देखते उत्तम प्रदेश बना दिया।

मद्रास उच्च न्यायालय: एक ऐजेण्डे के रूप में सामूहिक धर्म परिवर्तन स्वीकार्य नहीं

कन्याकुमारी में ही स्थित एक चर्च के पादरी हैं जिनका नाम है Mr. P George Ponnaiah. इस पादरी ने अरुमनाइ नामक स्थान पर एक और क्रिश्चियन स्टेन स्वामी के मौत के अवसर पर ईसाइयो और हिंदुओ कि एक सभा को जुलाई, २०२१ में सम्बोधित करते हुए, भारत माता, प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी, गृह मंत्री श्री अमित शाह जी और वंहा कि देवी "भू माता" के बारे में अत्यंत अपमानजनक और धार्मिक भावनाओं कप आहत करने वाली बातें कहीं थी और पूरे जोश में कहा था कि हम सबको ईसाई बनाएंगे और कोई भी हिन्दू इसे रोक नहीं पायेगा।

नए संसद भवन के भूमि पूजन के समय, मोदी जी ने उथिरामेरूर का उल्लेख किया था: क्यों?

उथिरामेरूर चेन्नई से लगभग ९० किमी दूर कांचीपुरम जिले में स्थित है, जो अपने आप में १२५० वर्षों का इतिहास समेटे हुए है। और आप को यह जानकर आश्चर्य होगा कि भारत में विद्दमान लोकतंत्र का सर्वोत्तम मॉडल है।

क्या परिवारवाद हि समाजवादी पार्टी का असली समाजवाद है?

अब ज़रा देखते हैं कि मुलायम सिंह यादव और उनके सपूत श्री अखिलेश यादव जी ने किस प्रकार डा राममनोहर लोहिया जी के सामाजवाद का चिरहरण करते हुए किस प्रकार समाजवाद को परिवारवाद में बदलकर उसे पूर्णतया परिवारवादी सामाजवाद बना दिया।

Latest News

Recently Popular