Saturday, September 25, 2021

Hindi

धर्मांतरण करने के लिये मौलाना कलीम सिद्दीकी को हुई करोडों की फंडिंग, यूपी ATS ने किया गिरफ्तार

उत्तरप्रदेश ATS ने एक धर्मांतरण करने वाले मौलाना कलीम सिद्दीकी को गिरफ्तार किया है, बताया जा रहा है इसी मौलाना कलीम ने अभीनेत्री सना खान का निकाह भी करवाया था।

तुम जितना देते हो उसका सौ गुना गउ माता लौटा देती है

दोस्तों अभी कुछ दिनों पूर्व हि इलाहबाद ऊच्च न्यायालय ने एक ऐतिहासिक आदेश पारित करते हुए गउ माता कि हत्या को अपराध कि श्रेणी में रखा और टिप्पणी कि कोई कैसे गउ माता को खाने के बारे में सोच सकता है।

दस साल से न्याय के लिये शासन-प्रशासन के चक्कर लगा रही गुलाब देवी, नही मिला अब तक न्याय

ये हकीकत है राजस्थान के दौसा जिले के भावता गाँव की जहाँ एक महिला पिछले 10 साल से सिर्फ अपने पति का मृत्यु प्रमाण-पत्र बनबाने के लिये शासन-प्रशासन के चक्कर काट रही है लेकिन उसका आज तक मृत्यु प्रमाण पत्र नही बना है।

श्री एस जयशंकर जैसा सपूत और श्री नरेंद्र मोदी जी जैसा जौहरी

इसमें कोई संदेह नहीं है कि वर्तमान सरकार ने चुनाव, धार्मिक आयोजनों और विरोधों के साथ आगे बढ़ते हुए, प्रसार में जोड़ा लेकिन, भारत को ग्लोबली सिंगल आउट क्यों किया गया..?

कहानी भारत के उस पड़ोसी की जो आज विश्व का 10वा सबसे बड़ा देश होता

आज जब कश्मीर में झूठी आज़ादी के नाम पर हजारों की संख्या में बच्चे और जवान हथियार लेकर हज़ारों जवानों की हत्या कर रहे है और कुछ लोग धर्मगुरु बनकर धर्म की रक्षा की झूठी लड़ाई छेड़े हुवे है तो ऐसे में उन लोगों को तिब्बत के लोगों से और दलाई लामा से ये सीख लेनी चाहिए कि अगर आपकी आज़ादी की लड़ाई सच्ची है तो इस लड़ाई में आपको हथियारों की कोई ज़रूरत ही नही पड़ती है।

मध्य प्रदेश के कॉलेजों में छात्र पढ़ेंगे रामायण, सिलेबस में शामिल होगा रामसेतु

मध्य प्रदेश में मेडिकल छात्रों के सिलेबस में आरएसएस के संस्थापक डॉ केशव हेडगेवार और जनसंघ के संस्थापक पंडित दीनदयाल उपाध्याय के विचारों को पढ़ाने का सियासी विवाद अभी थमा भी नहीं था कि अब भाजपा सरकार ने कॉलेजों में छात्रों को राम के बारे में पढ़ाने का फैसला लिया है।

एक महामारी ने उजाड दिया इस खुशहाल गाँव को!

यह कहानी है मण्डरायल तहसील के गुरदह गांव की, मंडरायल तहसील जिला करौली के अन्तर्गत आती है। इस गांव के बारे में कहा जाता है कि एक महामारी फैलने से यह उजड़ गया। इस गांव में अब हवेली तथा दुकानों के खंडहर है, ये खंडहर हवेली अतीत की दास्तां बयां करती हैं।

आखिर ये विधर्मी हिन्दुओं/सनातन धर्मियों से इतनी नफरत क्यों करते हैं

अपना वाला पशुत्व वो सनातनधर्मियों में भी ढूँढने का प्रयास करते हैं और जब असफल हो जाते हैं तो नफरत से वशीभूत होकर कभी मिथ्या अपवंचना करके सनातनधर्मियों को बदनाम करने का प्रयास, कभी उनके देवी देवताओं की भद्दी तस्वीरें बनाकर उनको भड़काने का प्रयास या फिर उनके देवी देवताओं, आराध्यों, उनकी संस्कृति, भाषा, सभ्यता को अपमानित करने का प्रयास करते रहते हैं।

जातिगत जनगणना या सरकारी नौकरी, वोट बैंक और सुविधाओं का बंदर बाँट?

साफ तौर पर देखा जा सकता है कि जातीय जनगणना का मकसद केवल ये साबित करना है कि पिछड़ी जातियों की संख्या ज्यादा है और उनकी संख्या के मुताबिक ही सरकारी नौकरियों, शिक्षण संस्थानों में उनका प्रतिनिधित्व सुनिश्चित किया जाए।

भारत एक सनातन राष्ट्र

धर्मनिरपेक्षता भारत का कोढ़ है तथा यह देश के उत्थान में एक कंटक है। इसे सनातन राष्ट्र घोषित करना आवश्यक है तथा इसमें विलम्व अत्यंत घातक हो सकता है। सत्य तो यह है कि यह एक नीति राष्ट्र के अनेकों समस्याओं का निराकरण स्वतः ही कर देगी।

Latest News

Recently Popular