Sunday, April 21, 2024
HomeHindiरक्षामंत्री ने की इन्दिरा गांधी की प्रशंसा, अमित शाह आतंकवाद पर बरसे

रक्षामंत्री ने की इन्दिरा गांधी की प्रशंसा, अमित शाह आतंकवाद पर बरसे

Also Read

Vijendra Meena
Vijendra Meena
Journalist | Writer | Analyst

आज रक्षा मन्त्री राजनाथ सिंह ने सशस्त्र बलों में महिलाओं की भूमिका पर शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) की संगोष्ठी को संबोधित किया। रक्षा मंत्री ने रानी लक्ष्मीबाई और पूर्व राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल का भी जिक्र किया और कहा कि राष्ट्रीय विकास में महिला शक्ति की भूमिका को लेकर भारत का अनुभव सकारात्मक रहा है।

सिंह ने कहा कि सशस्त्र बलों में महिलाओं की भूमिका पर बातचीत करना ठीक है, लेकिन सुरक्षा और राष्ट्र-निर्माण के सभी क्षेत्रों में उनके व्यापक योगदान को पहचाना जाना चाहिए।

उन्होंने कहा, ‘‘देश की रक्षा और लोगों के अधिकारों के लिए इतिहास में महिलाओं के हथियार उठाने के अनेक उदाहरण हैं। रानी लक्ष्मीबाई उनमें सबसे प्रमुख हैं।’’

रक्षा मंत्री ने कहा, ‘‘भारत की पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने न केवल वर्षों तक देश की कमान संभाली, बल्कि युद्ध के समय भी नेतृत्व किया। कुछ साल पहले प्रतिभा पाटिल भारत की राष्ट्रपति और भारतीय सशस्त्र बलों की सर्वोच्च कमांडर थीं।’’

इंदिरा गांधी के प्रधानमंत्री रहने के दौरान भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ 1971 की जंग जीती थी और एक नया देश, बांग्लादेश बना था।

उन्होंने कहा कि अगले साल से महिलाएं राष्ट्रीय रक्षा अकादमी में प्रशिक्षण प्राप्त कर सकेंगी।

आज अमित शाह भी आतंकवाद पर जमकर बरसे

दक्षिण गोवा के धारबंदोरा गांव में राष्ट्रीय फोरेंसिक विज्ञान विश्वविद्यालय की आधारशिला रखने के दौरान एक जनसभा को संबोधित करते हुए शाह ने आरोप लगाया कि यूपीए शासनकाल के दौरान सीमा पार से आतंकवादी घुसपैठ कर अशांति फैलाते थे और केंद्र की तरफ से कोई कार्रवाई नहीं की जाती थी लेकिन अब भारत उसी भाषा में जवाब देता है जो उन्हें (आतंकियों को) समझ में आती है।

आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए गृह मंत्री अमित शाह ने बृहस्पतिवार को कहा कि पांच साल पहले भारत द्वारा की गई सर्जिकल स्ट्राइक की कार्रवाई ने विश्व में कड़ा सदेश दिया कि कोई भी देश की सीमा में हस्तक्षेप नहीं कर सकता।

  Support Us  

OpIndia is not rich like the mainstream media. Even a small contribution by you will help us keep running. Consider making a voluntary payment.

Trending now

Vijendra Meena
Vijendra Meena
Journalist | Writer | Analyst
- Advertisement -

Latest News

Recently Popular