Thursday, December 1, 2022

TOPIC

Patriotism of RSS

India Will have to bow before China if dependence on it increases: RSS chief

Bhagwat said no matter how much people shout about boycotting Chinese goods, everything in mobile phones is coming from China.

कोरोना काल में भी देशभर में सेवा कार्य में जुटा हुआ है संघ

कोरोना की प्रथम लहर की भांति दूसरी लहर में भी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवक अनुषांगिक संगठन सेवा भारती सहित अन्य सबन्धित संगठन व संस्थाओं के माध्यम से प्रभावित परिवारों व जरूरतमंदों को सहायता उपलब्ध करवाने के कार्य में जुटे हुए हैं।

दृढ़ संकल्प, सजगता, धैर्य व सामूहिक प्रयासों से कोरोना संकट पर निश्चित ही विजय प्राप्त होगी– डॉ. मोहन भागवत

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन जी भागवत ने कहा कि दृढ़ संकल्प, सतत प्रयास व धैर्य के साथ भारतीय समाज कोरोना पर निश्चित ही विजय प्राप्त करेगा.

Babarao Savarkar, a forgotten hero

The subsequent events in Indian history would prove that Ganesh Savarkar was right. He could not live to see the light of the day India would become independent. His brother Veer Savarkar continues to be vilified and attacked by the Congress party and its ecosystem. However the Savarkar family's legacy lives on and inspires many. Today, the top leaders of India are groomed by RSS, which had Babarao's blessings.

ABVP and RSS volunteers conduct door-to-door screening of residents in Mumbai

Volunteers of ABVP and RSS began door to door screening in slum pockets of Nehru Nagar in Mumbai, equipped with PPE sets and directed by doctors on board, and screened over 500 people in total in the last three days.

RSS जनकल्याण समिति की ओर से कांदिवली पश्चिम में रक्त दान शिबिर संपन्न

९ मई २०२० को थैलेसीमिया से पीडित बच्चों के लिए चारकाेप, कांदिवली पश्चिम में रक्त दान शिबिर संपन्न हुआ. सर्वोदय हॉस्पिटल समर्पण ब्लड बैंक, घाटकोपर के तत्वावधान में हुए इस रक्तदान शिबिर में सुबह ११ से दोपहर २.३० बजे के बीच ९२ यूनिट रक्त संग्रहित किया गया.

People must learn from RSS

RSS is roved to be a rock that has protected India and Indians against any calamity.

स्वयंसेवक्त्व: इस तत्व के जागरण से जीवन जीने का एक अलग आयाम मिलता है

कोरोना महामारी के चलते जब हमारा राष्ट्र कई समस्याओं से लड़ रहा है तब संघ के कार्यकर्ताओं में विलीन स्वयंसेवक्त्व उन्हें सरकारी नियमों में रह कर जोड़े रख रहा है और व्यक्ति से व्यक्ति, व्यक्ति से समाज और समाज से राष्ट्र की सेवा करने को प्रेरित कर रहा है।

संघ की सेवा

संघ/RSS सिर्फ संगठन मात्र नही, बदलाव है नए भारत यानी विकसित भारत का।"

संकट के समय संघ गढ़ अतुल्य प्रतिमान

वास्तव में जब भी इस देश पर संकट आये चाहे वह प्राकृतिक आपदा हो या पड़ोसी देशों द्वारा प्रायोजित संकट राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ हमेशा देश के लिए समाज को जागृत कर कंधे से कंधे मिला कर खड़ा होता रहा है।

Latest News

Recently Popular