Sunday, June 23, 2024
2 Articles by

Vidhan Rajpurohit

स्वयंसेवक्त्व: इस तत्व के जागरण से जीवन जीने का एक अलग आयाम मिलता है

कोरोना महामारी के चलते जब हमारा राष्ट्र कई समस्याओं से लड़ रहा है तब संघ के कार्यकर्ताओं में विलीन स्वयंसेवक्त्व उन्हें सरकारी नियमों में रह कर जोड़े रख रहा है और व्यक्ति से व्यक्ति, व्यक्ति से समाज और समाज से राष्ट्र की सेवा करने को प्रेरित कर रहा है।

साम्यवाद – लोकतंत्र और राष्ट्रीय अखंडता के लिए खतरा

साम्यवाद में प्रतिएक मानव को संदेह की दृष्टि से देखने की प्रवृत्ति के कारण राजकीय तंत्र (सरकारी अफसर, प्रशाशन, सेना) सकती से काम करे यह भी जरूरी हो गया जिस कारण इन्हें भी सरकारी जोर के अंतर गत कार्य करवाना जरूरी था।

Latest News

Recently Popular