Friday, May 14, 2021

TOPIC

hindi

The enemy of Hindi

British govt considered the suggestion of making Hindi as more pragmatic and wanted to accept it in 1867, Sir Syed Ahmad Khan started opposing it and launched a campaign to make Urdu the second official language.

कब तक सामने आते रहेंगे प्यारेमियाँ जैसे चरित्र?

क्या प्यारेमियाँ को दंडित करने मात्र ही समस्या का हल है? क्या प्यारेमियाँ अकेला अपराधी है? ऐसे अनेक सवाल हैं जो एक समाज के रूप में हमें स्वयं से पूछने ही चाहिए।

चाईनीज मानसिकता पर प्रहार

सवाल ये है कि हम चाइनीज सामान लेना बंद कर सकते हैं पर ये चाइनीज मानसिकता वाले होनहारों से कैसे निपटा जाये जिनका लक्ष्य सिर्फ भारत और भारतीयता को कोसना ही है।

भारत में पेट्रोल और डीजल की कीमतों का सच

भारत में पेट्रोल और डीजल की कीमतें कैसे निर्धारित की जाती है?

समीक्षा: प्रेमचंद की छिपी हुई कहानी ‘जिहाद’ की

आत्मगौरव, निजधर्म के सम्मान में वह मुसलमान हो जाने के स्थान पर मृत्यु को वरीयता देता है और जिहादियों के हाथों मारा जाता है। यही प्रेम त्रिकोण का टर्निंग पॉइंट बनता है।

A Discussion on Hindi Sahitya by Prof (Dr) Ratnesh Dwivedi

The Gaddya and Paddya of Hindi is divided in six ‘Yugas’ or Eras.

प्रिय हिंदी

हिंदी सांप्रदायिक व दलित विरोधी?

Why Tamil Nadu needs Hindi

They accept Urdu which is 90% similar to Hindi to please the Muslims but hate Hindi. The Chennai Corporation runs a quite a large number of Urdu Medium primary schools in Muslim dominated areas.

नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति और भाषा विवाद का जिन

यदि हम इसी तरह भाषाई मामलों पर तल्‍खी लाते रहे तो वह दिन दूर नहीं जब भारत के हालात भी यूरोप जैसे हो जाए। इसलिए एक स्‍थायी देश के निर्माण के लिए समाजवाद और राष्‍ट्रवाद दोनों जरूरी हैं, भाषाई विवाद नहीं।

Despite the negativity of opposition, the perfect budget makes it way into the hearts of people and emerges as a winner

Narendra Modi once said in one of his Parliament speeches that one could doubt anything about him but one shouldn’t ever doubt his political acumen. He was right.

Latest News

Recently Popular