Sunday, January 29, 2023

TOPIC

bihar

ओवैसी के लिए खतरे की सूचना, बिहार में AIMIM के 4 विधायकों का RJD में विलय होने की संभावना

नेता अख्तरुल इमाम ने कहा कि बिहार में बड़े राजनीतिक दल 2020 के विधानसभा चुनाव के परिणाम के बाद से उनकी पार्टी के विधायकों को उनके साथ जुड़ने के लिए मनाने की कोशिश कर रहे हैं।

अंधविश्वास की आग से झुलस रही मानवता

झारखंड के सिमडेगा जिले में डायन के नाम पर एक महिला को भीड़ ने जिंदा जलाने का प्रयास किया गया।

एक भक्त की मौत: अनुराग पोद्दार की हत्या को एक साल होने को आया

यह किसी राजनीतिक भक्त की बात नहीं हो रही है। यह उस भक्त की बात है जो माँ दुर्गा का भक्त था और केवल अट्ठारह साल की छोटी सी उम्र में मौत के घाट उतर दिया गया।

जातिगत जनगणना या सरकारी नौकरी, वोट बैंक और सुविधाओं का बंदर बाँट?

साफ तौर पर देखा जा सकता है कि जातीय जनगणना का मकसद केवल ये साबित करना है कि पिछड़ी जातियों की संख्या ज्यादा है और उनकी संख्या के मुताबिक ही सरकारी नौकरियों, शिक्षण संस्थानों में उनका प्रतिनिधित्व सुनिश्चित किया जाए।

‘Bihar’- an important part of India, now lacking behind

Once flourishing state, why went into such depression?

A case for ousting ‘MAHARANI’

When motion pictures tend to pick-up real-life events and personalities from our history and fictionalises them by adding such exaggerations, as is evident in this case, they end up doing grave historical misappropriation.

Universal Basic Income: Would Direct Cash Transfer (DCT) to Jan Dhan (PMJDY) accounts increase demand?

The article is an investigation into prevailing drivers of economic growth in India generally and Bihar specifically, and the possible effect on demand and growth of introducing a form of Universal Basic Income-- Direct Cash Transfer to PMJDY accounts of low-income Individuals.

Making Bihar’s economy Atma Nirbhar

Atma Nirbhar Bihar was the campaign slogan of BJP in the 2020 Bihar Elections and helped Bhartiya Janta Party secured 74 seats in the last year’s elections. The verdict in BJP favor is clear that Bihar wants to progress.

Farm act: A tussle between pride and prejudice

The much awaited farming reform is one of the proud achievements of the present government. However, the reform seems to have fallen prey to the lingering prejudice against the government.

Politics of Electoral Insurance- Modi-Shah style!

Post Bihar elections, what if Nitish Kumar takes another U-turn and does a Uddhav Thackeray on BJP? So how does Modi-Shah respond to this situation? By buying some Electoral Insurance! : Read how.

Latest News

Recently Popular