Tuesday, October 4, 2022

TOPIC

Yogi vs Opposition in UP

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव बीजेपी नहीं, जनता लड़ रही हैं

आगामी 10 मार्च को योगी आदित्यनाथ के भाग्य का फैसला हो जायेगा. ये लहर कितना प्रचंड रूप दिखाती हैं ये चुनाव परिमाण के बाद सबके सामने आ जायेगा.

UP Polls 2022: Your vote was never so precious, nor will ever be; Prabashi UP-ites, rush back home and cast your vote

The UP polls are set to begin in a few days and UP-ites have historic opportunity to shape the state's future by returning home and casting their votes. This election is that crucial.

यूपी में योगी सरकार बा

ये मेरे दोस्त जो यूपी में हैं जो ना नेता है, ना पॉलिटिकल analyst है, उनका कहना है और उनके ही शब्दों को मैंने इसमें लिखा है। जात की राजनीति और हिंदुत्व, देखते हैं जीत किसको हांसिल होती है।

UP + YOGI= UPYOGI, Let me explain why!

Within minutes of change of Government and change of CM, these small scale thugs will re-appear, unite and bring back the criminal syndicate alive as there will be no restrictions left.

Akhilesh Yadav’s SP will struggle to win 50 seats in the upcoming UP Elections 2022

Literally everyone other than the people associated with BJP is claiming that it is a very tough, neck to neck election. In my defense, I would just say, please hear me out before jumping to conclusions and after reading the complete article decide for yourself.

क्या परिवारवाद हि समाजवादी पार्टी का असली समाजवाद है?

अब ज़रा देखते हैं कि मुलायम सिंह यादव और उनके सपूत श्री अखिलेश यादव जी ने किस प्रकार डा राममनोहर लोहिया जी के सामाजवाद का चिरहरण करते हुए किस प्रकार समाजवाद को परिवारवाद में बदलकर उसे पूर्णतया परिवारवादी सामाजवाद बना दिया।

A piece of advise to BJP for UP 2022 – Let your work speak for itself

As the most populous state of India, Uttar Pradesh, enters the build up phase of 2022 assembly elections, the ecosystem is throwing the whole kitchen and sink once again to inorganically divide the society on caste, religion and regional lines.

उत्तर प्रदेश चुनाव में केंद्र बिंदु बना हिन्दू

उत्तरप्रदेश एंव केंद्र सरकार ने देश की बड़ी आबादी को भी वही महत्व दिया जो अन्य समुदाय को दिया जाता था भारतीय जनता पार्टी अपने एजेंडे पर आगे बढ़ते रही और एक के बाद एक लगातार चुनाव में जीत हासिल करती रही।

लखीमपुर खीरी कांड: योगी ने विपक्ष को किया फेल

2022 के विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी के विरोध में बने माहौल को लपकने के लिए कांग्रेस, सपा, बसपा और आम आदमी पार्टी के नेताओं ने कोई कसर नहीं छोड़ी, दिल्ली ही नहीं, छत्तीसगढ़ और पंजाब से भी नेता लखीमपुर खीरी के लिए निकल पड़े।

Why must Owaisi engage with the ‘Samajwadis’?

Mr. Owaisi comparing the Congress as a ‘sinking ship’ and Mr. Rahul Gandhi as the captain who left it, an alliance with any of the major opposition parties except the SP is highly unlikely.

Latest News

Recently Popular