Monday, December 5, 2022
HomeHindiदिल्ली के ऐतिहासिक लालकिले मैदान में आयोजित विश्व प्रसिद्ध "लव-कुश रामलीला" का अंदाज सबसे...

दिल्ली के ऐतिहासिक लालकिले मैदान में आयोजित विश्व प्रसिद्ध “लव-कुश रामलीला” का अंदाज सबसे जुदा 

Also Read

दीपक कुमार त्यागी / हस्तक्षेप
दीपक कुमार त्यागी / हस्तक्षेप
स्वतंत्र पत्रकार, स्तंभकार, राजनीतिक विश्लेषक व रचनाकार

आधुनिक तकनीक व प्राचीन भारतीय धर्म संस्कृति के अनूठे संगम के लिए विश्व में प्रसिद्ध है दिल्ली की “लव-कुश रामलीला” “लव-कुश रामलीला” दर्शकों को आकर्षित करता है राजनीति एवं फिल्मी दुनिया के दिग्गजों के अभिनय का निराला अंदाज 

दीपक कुमार त्यागी / हस्तक्षेप

वरिष्ठ पत्रकार, स्तंभकार व राजनीतिक विश्लेषक

दिल्ली के ऐतिहासिक लालकिले के मैदान में हर वर्ष धूमधाम व भव्यता के साथ आयोजित होने वाली बेहद प्राचीन, विश्व भर में प्रसिद्ध व सबसे बड़ी मानी जाने वाली रामलीला ‘लव-कुश रामलीला’ हर वर्ष की तरह ही इस वर्ष भी 26 सितंबर से शुरू हो गयी है और 6 अक्टूबर तक चलेगी। लव-कुश रामलीला कमेटी के अध्यक्ष अर्जुन कुमार अग्रवाल के अनुसार हर वर्ष रामलीला के माध्यम से देश की युवा पीढ़ी को मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम के बारे में अवगत करवाने का एक सकारात्मक प्रयास किया जाता है, लोगों को समझाया जाता है कि भगवान श्रीराम केवल हमारी सनातन धर्म व संस्कृति की एक पहचान मात्र नहीं है, बल्कि वह उसकी आत्मा है और प्राण शक्ति हैं। भगवान श्रीराम आम जनमानस के जीवन की प्रेरणा हैं, उनका चरित्र जीवन में मार्गदर्शन प्रदान करने का कार्य करता है और कठिन से कठिन समस्या का धैर्य के साथ बेहद सहज समाधान प्रस्तुत करता है,  अभिशापों को वरदान में कैसे परिवर्तित कर सकते हैं, बेहद सरल शब्दों में यह समझाता है, जीवन पथ पर सफलता हासिल करने का मूल मंत्र दृढ़ मनोबल, संकल्प शक्ति प्रदान करता है। इसी उद्देश्य को हासिल करने के लिए ही ऋषि-मुनियों की प्रेरणा से ही प्रभु श्रीराम की दिव्य रामलीला का मंचन देश-दुनिया में शुरू हुआ था। इसी लक्ष्य के साथ ही लव-कुश रामलीला का हर वर्ष धूमधाम से दिल्ली के ऐतिहासिक लालकिले के मैदान में आयोजन किया जाता है। देश-दुनिया में दिल्ली की इस बेहद चर्चित व भव्य रामलीला की ख्याति पहुंचाने का श्रेय लव-कुश रामलीला कमेटी के दिवंगत अध्यक्ष पुण्यात्मा अशोक अग्रवाल व उनकी समस्त टीम को जाता है। आज भारतीय संस्कृति एवं प्रभु श्रीराम की लीलाओं की ओर देश की युवा पीढ़ी को आकर्षित करने के उद्देश्य से रामलीला में समय के अनुसार हर वर्ष नयी थीम के साथ एक बेहद विशाल सुंदर मंच बनाया जाता है,

इस वर्ष मंच को भगवान श्रीराम के अयोध्या में बन रहे दिव्य मंदिर का स्वरूप प्रदान किया गया है। मंचन के दौरान रामलीला को अद्भुत आलौकिक बनाने के लिए अत्याधुनिक तकनीक का प्रयोग किया जाता है, साथ ही दर्शकों के लिए फिल्मी दुनिया के कलाकारों से व देश के दिग्गज राजनेताओं से रामलीला का मंचन करवाया जाता है। विशेष रूप से मुंबई से स्टंट करने वाले, ड्रेस डिजाइनर, ज्वैलरी, मेकअप, विशेष इफेक्ट  आदि वाले लोगों की टीम हर वर्ष बुलवायी जाती है।

रामलीला के लिए बेहद आधुनिक 3D-मेपिंग, क्रेन, एलईडी लाइट आदि बड़े  पैमाने पर लगवाएं जाते हैं। रामलीला का विभिन्न चैनलों के माध्यम से लाइव प्रसारण भी करवाया जाता है, देश-दुनिया में प्रचार-प्रसार के लिए प्रिंट मीडिया के विभिन्न प्लेटफॉर्म, इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, सोशल मीडिया व यूट्यूब चैनलों आदि का भरपूर उपयोग किया जाता है‌। साथ ही रामलीला में आधुनिकता के साथ प्राचीनता के संगम धर्म संस्कृति को भी पूरी तरह से बरकरार रखने का विशेष रूप से कमेटी के द्वारा ध्यान रखा जाता है।

इस बार शुरुआत के दौर में ही रामलीला में नारद ऋषि के किरदार को निभा रहे देश के दिग्गज अभिनेता असरानी ने दर्शकों पर यादगार छाप छोड़ने का कार्य किया है। हर वर्ष की ही तरह लव-कुश रामलीला में इस वर्ष भी फिल्म व राजनीति की दुनिया के बहुत सारे दिग्गजों का अभिनय करने के लिए तांता लगा हुआ है। इस वर्ष भगवान श्रीराम राम की भूमिका अभिनेता राघव तिवारी कर रहे हैं, जिनको दर्शकों ने फिल्म गुड न्यूज, द पुष्कर लॉज, रणथंभौर आदि समेत कई अन्य फिल्मों में बेहद महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हुए देखा है। वहीं सोनी टीवी पर धारावाहिक संकट मोचन महाबली हनुमान में और विघ्नहर्ता गणेश में लक्ष्मण की भूमिका निभाने वाले अभिनेता अरुण मंडोला इस वर्ष रामलीला में लक्ष्मण की भूमिका निभा रहे हैं।

बालिका वधू, संकट मोचन महाबली हनुमान, ससुराल सिमर का, सिया के राम, ये रिश्ता क्या कहलाता है, विघ्नहर्ता गणेश आदि जैसे प्रसिद्ध धारावाहिक में अभिनय कर चुकी अभिनेत्री देवलीना चटर्जी माता सीता की भूमिका में हैं। वहीं पानीपत, अग्नीपथ जैसी फिल्मों से अपने अभिनय का लोहा मनवाने वाले अभिनेता जस्सी सिंह लंकेश के पुत्र मेघनाथ की भूमिका निभा रहे हैं। रावण की भूमिका में देश के प्रसिद्ध सीरियल चंद्रकांता में क्रूर सिंह की भूमिका से लोकप्रिय हुए अभिनेता अखिलेंद्र मिश्रा हैं, जो कि फिल्म लगान व सरफरोश आदि में भी यादगार अभिनय कर चुके हैं। रावण की पत्नी मंदोदरी के किरदार में देश की नामचीन दिग्गज अभिनेत्री अमिता नागिया है, जो कि सौगंध, अजनबी और भागम भाग आदि जैसी फिल्मों की भूमिका से विशेष रूप से पहचानी जाती हैं।

वहीं इस बार भगवान शिव की भूमिका में भोजपुरी सिनेमा जगत के दिग्गज नामचीन अभिनेता मनीष चतुर्वेदी है़, जो ‘जाग मछिंदर गोरख आया’ फिल्म में भगवान शिव की भूमिका निभा चुके हैं और 50 से ज्यादा फिल्म व 50 से ज्यादा धारावाहिकों में कार्य कर चुके हैं। भगवान हनुमान की भूमिका में अभिनेता निर्भय वाधवा हैं, जो कि संकट मोचन महाबली हनुमान और विघ्नहर्ता गणेश धारावाहिक में हनुमान जी की भूमिका निभा चुके हैं। वहीं हिंदी मीडियम, एस पी चौहान जैसी लगभग तीन दर्जन फिल्मों में कार्य कर चुके व पिछले कई वर्षों से रामलीला के मंचन से लगातार जुड़े रहने वाले उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जनपद के निवासी अभिनेता मोहित त्यागी इस बार रामलीला में विभीषण के किरदार के साथ रोज-रोज अलग-अलग तरह की भूमिकाओं को निभाते हुए दर्शकों को रोजाना रामलीला में नज़र आयेगें।

वहीं राजनीति के क्षेत्र की बात करें तो इस बार भी लव-कुश रामलीला में मोदी सरकार के तीन दिग्गज केन्द्रीय मंत्री दर्शकों को अभिनय करते हुए नज़र आयेंगे। दर्शक केंद्र सरकार में उपभोक्ता खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण राज्यमंत्री अश्विनी चौबे को महर्षि विश्वामित्र की भूमिका निभाते हुए देखेंगे‌। वहीं भगवान विष्णु व निषाद राज के रूप में केन्द्रीय इस्पात एवं ग्रामीण विकास राज्यमंत्री फगन सिंह कुलस्ते को देखेंगे।

वहीं केन्द्रीय संसदीय कार्य एवं संस्कृति राज्यमंत्री अर्जुन राम मेघवाल लीला में अभिनय के साथ-साथ भजन भी प्रस्तुत कर रहे हैं। वहीं लोकसभा सांसद मनोज तिवारी भगवान राम को नदी पार करवाने वाले नाविक केवट की भूमिका निभा रहे हैं। वहीं आम आदमी पार्टी के दिग्गज व लोकप्रिय राजनेता बृजेश गोयल भगवान राम के भक्त अंगद की भूमिका निभा रहे हैं। दिल्ली के पूर्व महापौर अवतार सिंह इस बार कुंभकरण की भूमिका को निभा रहे हैं। वहीं भाजपा के दिग्गज राजनेता और दिल्ली विधानसभा में विपक्ष के नेता रह चुके विजेंद्र गुप्ता माता सीता के पिता राजा जनक की भूमिका को निभा रहे हैं। 

एक तरफ तो फिल्म व राजनीति के क्षेत्र के यह दिग्गज शख्सियत टीआरपी के इस जबरदस्त दौर में विश्व प्रसिद्ध लव-कुश रामलीला के मंचन में अपने दमदार अभिनय के माध्यम से देश-दुनिया के लोगों के दिलोदिमाग पर पूरी तरह से छा जाने के लिए बेताब हैं। वहीं दूसरी तरफ रामलीला के दर्शक भी अपने आराध्य भगवान श्रीराम की लीलाओं को देखकर के दिव्य आलौकिक आनंद की एक विशेष अनुभूति प्राप्त करने के इस बेहद शानदार अवसर पर हर हाल में लालकिले के मैदान में उपस्थित रहना चाहते हैं।

लव-कुश रामलीला कमेटी के अध्यक्ष अर्जुन कुमार अग्रवाल के अनुसार इस वर्ष विजयादशमी के पावन महापर्व पर यानि कि 5 अक्टूबर 2022 को रावण दहन के बेहद भव्य कार्यक्रम में दक्षिण सिनेमा के सुपरस्टार और सुपरहिट फिल्म बाहुबली के एक्टर प्रभास भी लालकिले के ऐतिहासिक मैदान में पहुंचेंगे और वह दशहरा पर रामलीला में रावण, कुंभकरण व मेघनाथ के पुतलों के दहन के दिन को दर्शकों के लिए बेहद यादगार बनाएंगे। हालांकि रावण दहन करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से भी समय मांगा गया है जो कि कमेटी को अभी तक मिल नहीं पाया है, अगर प्रधानमंत्री से समय नहीं मिल पाता है तो फिर अभिनेता प्रभास ही रावण दहन भी करेंगे।

यहां आपको बात दें कि पहले भी अजय देवगन व जान अब्राहम जैसे दिग्गज अभिनेता लालकिले की लव-कुश रामलीला कमेटी के भव्य कार्यक्रम का हिस्सा रहे चुके हैं। लेकिन इस बार भयावह कोरोना काल के बाद प्रतिबंधों से मुक्त रामलीला के आयोजन में दक्षिण भारत के दिग्गज लोकप्रिय सुपरस्टार प्रभास के आगमन को लेकर कमेटी के सभी सदस्यों के साथ-साथ व दर्शक भी बहुत ज्यादा उत्साहित हैं।

पूर्व में भी लालकिले की इस प्राचीन ऐतिहासिक लव-कुश रामलीला में राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, केंद्रीय मंत्री, उपराज्यपाल, जगद्गुरु शंकराचार्य, दिग्गज धर्माचार्य, विभिन्न राजनीतिक दलों के छोटे बड़े राजनेता, पत्रकार, फिल्मी दुनिया के छोटे बड़े कलाकार, गीतकार, संगीतकार, सामाजिक लोग एवं गणमान्य व्यक्तियों ने पधार कर भगवान श्रीराम की पूजा अर्चना करके प्रभु श्रीराम का आशीर्वाद समय-समय पर लिया है और दिल्ली के ऐतिहासिक लालकिले की प्राचीर के नीचे के विशाल मैदान में हर वर्ष रामलीला के भव्य सफल आयोजन के लिए लव-कुश रामलीला कमेटी के कर्ताधर्ताओं को प्रोत्साहित करने का कार्य किया है। 

।। जय सियाराम ।।

।। जय हिन्द जय भारत ।।

।। मेरा भारत मेरी शान मेरी पहचान ।।

दीपक कुमार त्यागी / हस्तक्षेप

वरिष्ठ पत्रकार, स्तंभकार व राजनीतिक विश्लेषक

  Support Us  

OpIndia is not rich like the mainstream media. Even a small contribution by you will help us keep running. Consider making a voluntary payment.

Trending now

दीपक कुमार त्यागी / हस्तक्षेप
दीपक कुमार त्यागी / हस्तक्षेप
स्वतंत्र पत्रकार, स्तंभकार, राजनीतिक विश्लेषक व रचनाकार
- Advertisement -

Latest News

Recently Popular