Friday, May 24, 2024
HomeHindiकांग्रेस से परेशान 500 से अधिक करौली के प्रतिनिधियों ने की भाजपा जोइन

कांग्रेस से परेशान 500 से अधिक करौली के प्रतिनिधियों ने की भाजपा जोइन

Also Read

करौली (राजस्थान) में नवसंवत्सर (दो अप्रैल) को हुए उपद्रव के बाद तनावपूर्ण शांति कायम है। इसी बीच, उपद्रव के बाद दलित और आदिवासी समाज के 500 से ज्यादा प्रतिनिधियों ने अम्बेडकर जयन्ती पर भाजपा की सदस्यता ग्रहण की है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने इन लोगों को पार्टी की सदस्यता ग्रहण करवाई है।

सरकार ने अपनी नाकामी और करतूतों को छुपाने की दृष्टि से उपद्रव के दस दिन बाद करौली के जिला कलक्टर राजेंद्र सिंह शेखावत को हटा दिया है और उनके स्थान पर अंकित कुमार सिंह को लगा दिया है। पुलिस ने उपद्रव करने वालों की पहचान का सिलसिला जारी रखा है। वही, बसपा के प्रदेश अध्यक्ष हंसराज बालौती, 2018 के विधानसभा चुनाव सपोटरा से बसपा के प्रत्याशी रहे हंसराज, सपोटरा की प्रधान कमली देवी, हेमराज गोटिया, पूर्व पंचायत समिति सदस्य परसुराम मीणा, पूर्व जिला परिषद सदस्य धर्म सिंह फौजी सहित कई प्रमुख लोगों ने अपने समर्थकों के साथ भाजपा की सदस्यता ग्रहण की है। बालौती ने आरोप लगाया कि कि करौली में एक वर्ग विशेष को सरकार का आशीर्वाद मिला हुआ है। हालात यह है कि कोई जय श्रीराम के नारे बोलना चाहता है तो उसे सरकार की अनुमति की जरूरत है। सरकार बहुसंख्यकों की अनदेखी कर रही है। उन्होंने कहा कि करौली की घटना से दुखी होकर भाजपा की सदस्यता ग्रहण की है इस मौके पर पूनिया ने कहा कि हम लोग करौली अशांति फैलाने नहीं गए थे, लेकिन हमें रोक लिया गया। लोगों से मिलने नहीं दिया गया।

हंसराज बालौती ने खुद ट्विटर पर ट्वीट करके जानकारी दी है।

आज #डॉ_भीमराव_अंबेडकर_जयंती के शुभ अवसर पर @BJP4Rajasthan की सदस्यता राजस्थान प्रदेश अध्यक्ष @DrSatishPoonia ने भाजपा का दुपट्टा पहनाकर ग्रहण करवाई। इस मौके पर प्रदेश उपाध्यक्ष @MukeshDhadhichj,प्रदेश महामंत्री एवं विधायक @madandilawar आदि उपस्थित रहे। @chshekharbjp @BJP4India pic.twitter.com/qrq0RkR6fX— Er Hansraj Baloti (@ErHansrajMeena) April 14, 2022

क्या हमले में पुलिस शामिल है ?
इसका जवाब हाँ मे रहे तो सही ही रहेगा क्योकिं जो वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ उसमें दंगाईयो के साथ पुलिस भी नजर आ रही है जो मूकदर्शक बनकर देखती रही है लेकिन दंगाईयो पर कोई कार्यवाही तुरंत नही की।

पहले से थी हमले की साजिश:
दैनिक भास्कर के दो रिपोर्टरो ने हमले के बाद क्षेत्र की पडताल की जिसमे छत पर पत्थर पाये गये और भीड पर तलवार लाठियो से हमला कर दिया गया।

हिन्दू कर रहे पलायन: दो अप्रैल को हिंदू संगठनों की बाइक रैली पर हुए पथराव के बाद स्थिति तनावपूर्ण है। इस बीच मुस्लिम बहुल इलाकों से हिंदू अपने घर और दुकान बेचकर दूसरी जगह पलायन कर रहे हैं। दो घरों और कुछ दुकानों पर तो मुसलमानों ने कब्जा कर लिया है। वहीं, कई जगह हिंदूओ ने घरों और दुकानों के बाहर ‘संपत्ति बिकाऊ’ के बोर्ड लगा दिए हैं एक वरिष्ठ आइपीएस अधिकारी ने कहा कि पिछले एक सप्ताह में लोग अपना घर और दुकान छोड़कर या तो करौली में ही दूसरी जगह रहने लगे हैं या फिर ताला लगाकर दूसरी जगह चले गए हैं। इन लोगों को वापस लाने के प्रयास किए जा रहे हैं। पलायन करने वालों में जाटव, खटीक, धोबी और कुमावत समाज के लोग शामिल हैं।
डां किरोडीलाल मीना ने 195 लोगों की सूची राजस्थान सरकार को सौपी थी जो पलायन कर चुके थे।

  Support Us  

OpIndia is not rich like the mainstream media. Even a small contribution by you will help us keep running. Consider making a voluntary payment.

Trending now

- Advertisement -

Latest News

Recently Popular