Wednesday, April 17, 2024

TOPIC

religious conversions

The S.C. finally took cognizance of religious conversions

It is heartening to note that the S.C has taken cognizance of the situation prevailing because religious conversions in India mainly target the majority religion i.e. Hinduism.

Why Bharat cannot afford to not have an Anti-conversion bill?

We aren't divisive, but believe in Vasudaiva Kutumbakam and are tolerant enough to live and let live with us the invaders, colonisers and the archaical system.

Religious conversion and cultural appropriation

Wherever Hindus have been a minority in South Asia, they have been exterminated.

परिवर्तन और परिवर्तित (Convert and converted) इतने भयानक और खतरनाक क्यों?

भारतवर्ष की संस्कृति और सभ्यता को नष्ट करने के लिए ये विधर्मी दिन रात एक किये हुए हैं। और इनमे ९०% धर्मांतरित ही हैं, जो स्वभाव से लालची, बेशर्म और बेईमान प्रकृति वाले होते हैं।

धर्मांतरण करने के लिये मौलाना कलीम सिद्दीकी को हुई करोडों की फंडिंग, यूपी ATS ने किया गिरफ्तार

उत्तरप्रदेश ATS ने एक धर्मांतरण करने वाले मौलाना कलीम सिद्दीकी को गिरफ्तार किया है, बताया जा रहा है इसी मौलाना कलीम ने अभीनेत्री सना खान का निकाह भी करवाया था।

Thoughts on civilization

The days were indeed violent, and no right-thinking citizen would yearn for their return.

Love Jihad law- from the middle-class (not elitist) perspective

The Uttar Pradesh Government’s Ordinance aimed at curbing forcible or fraudulent religious conversions including those for the sake of marriage, is a step-in the...

भारत में जातिवादी टकराव सच है या राजनीति

हाल के ही दिनों में दो प्रमुख घटनाएँ सामने आयीं है जिसे देख के लगता है की भारत में जातिवादी भावना भरी गई है ताकि हिन्दुओं में टकराव बना रहे और कुछ तथाकथिक धर्मनिरपेक्ष राजनितिक दल अपना प्रभाव और प्रभुत्व भारत में बना के रख सकें।

Has social service become a way of conversion?

Christian Missionaries blackmail vulnerable people to choose between being able to follow their traditions and being able to feed their family. In desperate times, many people convert.

समीक्षा: प्रेमचंद की छिपी हुई कहानी ‘जिहाद’ की

आत्मगौरव, निजधर्म के सम्मान में वह मुसलमान हो जाने के स्थान पर मृत्यु को वरीयता देता है और जिहादियों के हाथों मारा जाता है। यही प्रेम त्रिकोण का टर्निंग पॉइंट बनता है।

Latest News

Recently Popular