Tuesday, October 20, 2020

TOPIC

Nehruvian-Left

प्रथम भारतीय गणराज्य की विदाई की सांझ व आगे का मार्ग

बदलते घटनाक्रमों ने यह तो स्पष्ट कर ही दिया है कि इस्लामिक अराजकता आने वाले समय में केवल इस जंग खा चुकी गणतांत्रिक व्यवस्था को उखाड़ फेंक नई गणतांत्रिक व्यवस्था बनाने के हिंदू संकल्प को मजबूत ही करेगी।

भारत-चीन पर राहुल का सवाल

भारत ही नेहरू के नेतृत्व में पहला गैर साम्यवादी जनतांत्रिक राज्य था जिसने जनवादी कम्युनिस्ट चीन को मान्यता प्रदान की. नेहरू उस दौर में चीन को लेकर इतने रोमांटिक (कल्पनावादी) हो गए थे कि तिब्बत पर चीन का आधिपत्य स्वीकार कर लिया. पर जब 1962 में चीन ने भारत पर हमला किया तो नेहरू की विदेश नीति चौपट हो गई थी.

They peddle lie and cry to believe it as History: An answer to Romila Thapar’s latest piece

Ample amount of damages to Indian history has been done by the Left-wing and Nehru-centric Historian like Romila Thapar, Ramachandra Guha and others. They peddled lie and call it history.

Why is the left so desperate?

Even after independence, we chose to drive the people who were the biggest exploiters of humanity and then somehow adopted their culture and started believing their version of our history.

Why ‘The Tashkent Files’ is a must watch

The Tashkent Files will horrify your imaginations about how much we have been misinformed and of all we know is nothing but strategically constructed mind frame.

Flawed democracy & why Pakistan is not Bharat’s biggest enemy

Our democracy is partially blind and has no way to distinguish between nationalism and rent seeking behaviour and this is where the society must step in to fill the gaps. We need to list out those who use our nation’s democracy and Constitution to further their personal agendas and remove them from electoral process to begin with.

Left based intellectuals decoded

Left based intellectuals wrap their political ideology very smartly with empathy towards oppressed and for that they use their writing or speaking skills effectively. Thus they come out for many as "good people".

The Pulwama massacre is an integral problem of Kashmir Valley

Both Nehru and Indira Gandhi yearned to prove their peace credentials to world nations and left the country into insecurity and flames forever.

उदारवादियों को क्यों खटकती है स्टेचू ऑफ़ यूनिटी?

नेहरू गाँधी खानदान की महानता की जो गाथाए जो बड़ी मेहनत से बनायीं गयी हैं, और जनता के सामने एक छवि प्रस्तुत की गयी हैं, उस पर घनघोर खतरा हो उत्पन्न हो गया हैं।

Roads: From the horse dung on Britain streets, to Progressive India

Nehru's poor insight of the economic planning was evident when JRD Tata supported a nationalist party as an opposition to replace the communist party for a free economy & healthy development - Nehru questioned JRD’s decision.

Latest News

शांत कश्मीर और चिदंबरम का 370 वाला तीर

डॉ. मनमोहन सिंह की सरकार के सबसे शक्तिशाली मंत्रियो में से एक चिदंबरम आज वही भाषा बोल रहे है जो पाकिस्तान संयुक्त राष्ट्र तथा अन्य अंतर्राष्ट्रीय मंचो पर बोलता आया है। चिदंबरम यही नहीं रुके उन्होंने अलगाववादियों को भी महत्व देने की बात कही है।

मिले न मिले हम- स्टारिंग चिराग पासवान

आज के परिपेक्ष्य में बिहार का चुनाव कई मायनो में अलग है। मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री पारम्परिक राजनीती वाली रणनीति का अनुसरण कर रहे है तो वही युवा चिराग और तेजस्वी विरासती जनाधार को नए भविष्य का सपना दिखने का प्रयास कर रहे है।

How BJP can win seats in Tamil Nadu and Kerala

It is time for BJP to eye on Tamil Nadu and Kerala. In Lok Sabha election 2024 BJP will win ±15 seats in TN and ±3 seats in Kerala.

Brace for ad Jihad

Delusionary fairy tale

Why this hullabaloo about shifting Bollywood?

Let the new film city emerge as the genuine centre for producing high quality films that are genuinely Indian and be helpful in building a strong value-based society.

Recently Popular

Jallikattu – the popular sentiment & ‘The Kiss of Judas Bull’ incident

A contrarian view on the issue being hotly debated.

सामाजिक भेदभाव: कारण और निवारण

भारत में व्याप्त सामाजिक असामानता केवल एक वर्ग विशेष के साथ जिसे कि दलित कहा जाता है के साथ ही व्यापक रूप से प्रभावी है परंतु आर्थिक असमानता को केवल दलितों में ही व्याप्त नहीं माना जा सकता।

How I was saved from Love Jihad

A personal experience of a liberal urban woman and her close brush with Islam.

Twitter wrongfully reports Jammu & Kashmir’s location again

In February of this year Twitter was accused of getting Jammu & Kashmir’s location wrong.

हिंदू धर्म की भावनाओं को ठेस पहुंचाना कहां तक उचित है??

विज्ञापन में दिखाए गए पात्रों के धर्म एक दूसरे से बदल दिए जाएं तो क्या देश में अभी शांति रहती। क्या तनिष्क के शोरूम सुरक्षित रहते। क्या लिबरल तब भी अभिभ्यक्ती की स्वतन्त्रता की बात करते।