Saturday, July 24, 2021
18 Articles by

anantpurohit

Self from a small village Khatkhati of Chhattisgarh. I have completed my Graduation in Mechanical Engineering from GEC, Bilaspur. Now, I am working as a General Manager in a Power Plant. I have much interested in spirituality and religious activity. Reading and writing are my hobbies apart from playing chess. From past 2 years I am doing research on "Science in Hindu Scriptures".

हिन्दुत्व में विज्ञान 7: पौराणिक घटनाएँ और आइंस्टीन के सापेक्षतावाद का सिद्धान्त

महाभारत की दो घटनाओं का विश्लेषण करते हैं, आइंस्टीन के सापेक्षतावाद सिद्धांत से

Science in Hinduism 6: Concept of Hydrogen Bomb written in Hindu Scriptures

concept of Hydrogen Bomb in Matsya MahApurANa.

सामाजिक भेदभाव: कारण और निवारण

भारत में व्याप्त सामाजिक असामानता केवल एक वर्ग विशेष के साथ जिसे कि दलित कहा जाता है के साथ ही व्यापक रूप से प्रभावी है परंतु आर्थिक असमानता को केवल दलितों में ही व्याप्त नहीं माना जा सकता।

हिंदुत्व में विज्ञान 5: ऊष्मागतिकी और आत्मागतिकी की समानता

आइंस्टीन के सापेक्षवाद से आज सिद्ध हो चुका है कि प्रत्येक वस्तु को ऊर्जा में बदला जा सकता है। अतः संपूर्ण सृष्टि एक संघ के रुप में एक विराट ऊर्जा है और हम उस विराट ऊर्जा का एक छोटा सा कतरा।

सती प्रथा: एक समग्र विश्लेषण

विधवा विवाह और सती प्रथा दो विपरीत प्रथाएँ हैं जिनका सह-अस्तित्व कभी भी संभव नहीं। अर्थात अगर विधवा विवाह प्रचलित है तो सती प्रथा का कोई औचित्य ही नहीं है। निस्संदेह सती प्रथा मूल हिंदू धर्म का कोई अंग नहीं था। फिर यह कुरीति समाज में कैसे शुरू हुई?

अश्वमेध यज्ञ और फैली भ्रांतियाँ

वर्तमान में स्वघोषित बुद्धिजीवी हिंदुत्व की आलोचना कर स्वयं को गौरवान्वित महसूस करते हैं। धर्मग्रन्थों को बिना समझे उनमें लिखी बातों का मनमाना अर्थ निकलकर दुष्प्रचार करना इन तथाकथित बुद्धिजीवियों का शौक बन गया है।

Class system (VarNa VyavasthA): The delusion dispersed about it in society

Taking a close look of our scriptures, It can be said that there was no inclusion of dynasty in the Class System (varNa vyavasthaA). In the absence of dynasty in Class System, no other system could be better than it.

They peddle lie and cry to believe it as History: An answer to Romila Thapar’s latest piece

Ample amount of damages to Indian history has been done by the Left-wing and Nehru-centric Historian like Romila Thapar, Ramachandra Guha and others. They peddled lie and call it history.

To mock PM Modi, Congress President Rahul Gandhi set a new low for self and ended with self mocking

Childish behavior of Congress President is not only loosing his own credibility but loosing credibility of 125 year old party's credibility too.

माननीय मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई को पत्र

आप का साथ देने वाले आज यह पोस्ट और 'फेक न्यूज़' चला रहे हैं कि अगले सप्ताह राफेल पर सुनवाई की वजह से दवाब बनाने के लिए यह आरोप लगाया गया है। तो जनाब, सुनवाई तो नेशनल हेराल्ड पर भी होने वाली है। सुनवाई तो अवमानना केस पर भी हुआ।

Latest News

Recently Popular