Wednesday, December 7, 2022

TOPIC

Anti Hindu Teachings

Contesting the anti-Hindu & anti-India bias of the West

The biased-West cries on imaginary fascist-Hindutva after erasing its memory of the hundreds of Islamic terrorist attacks across the world in past five decades.

मद्रास उच्च न्यायालय: एक ऐजेण्डे के रूप में सामूहिक धर्म परिवर्तन स्वीकार्य नहीं

कन्याकुमारी में ही स्थित एक चर्च के पादरी हैं जिनका नाम है Mr. P George Ponnaiah. इस पादरी ने अरुमनाइ नामक स्थान पर एक और क्रिश्चियन स्टेन स्वामी के मौत के अवसर पर ईसाइयो और हिंदुओ कि एक सभा को जुलाई, २०२१ में सम्बोधित करते हुए, भारत माता, प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी, गृह मंत्री श्री अमित शाह जी और वंहा कि देवी "भू माता" के बारे में अत्यंत अपमानजनक और धार्मिक भावनाओं कप आहत करने वाली बातें कहीं थी और पूरे जोश में कहा था कि हम सबको ईसाई बनाएंगे और कोई भी हिन्दू इसे रोक नहीं पायेगा।

“Dismantling Global Hindutva” conference is an intellectual hate campaign directed against Hindus all over the world

Hinduism has always been the target of left radicals but it baffles everyone’s mind why 40 American universities opt to be the Hindu hate co-sponsors.

“Dismantling global Hindutva”: The ‘gang’ and their agenda

The gang has announced organization of a three day online conference entitled “Dismantling Global Hindutva” during 10 to 12 September 2021.

सदियों का भेदभाव और अत्याचार

ये जो सदियों से भेदभाव और अत्याचार वाली कहानियां सुनाई जाती हैं ना हिन्दूओं को, ये सब हिन्दुओं को आपस में लड़ाने के षड्यंत्र हैं बस।

How DMK is anti Hindu: The silence of rest of India is empowering DMK

Listed here are some of the countless anti Hindu rants by DMK leaders. Not a single DMK leader will ever dream to make similar comments on other religions

बौद्ध, जैन दर्शन में राम

झूठ के पुलिंदे पर बौद्ध दर्शन को धर्म के रूप में परिभाषित कर अलग दुकान चलना चाहते है। जो न पहले संभव हो सका था न आगे संभव होगा।

Is academic freedom greater than the constitution?

It is high time that TISS takes remedial steps to get rid of all such elements who are bringing eternal infamy to the celebrated institution. The voice of a country loving common Indian needs to be heard and the failure to do so would certainly prove disastrous in the long run.

AndolanJeevis: What is the end game here?

Nation building is a long arduous task which takes decades of right direction and effort. Nations are not built in 5 or 10 years specially the ones as huge and diverse as India.

तां ड व !

OTT पर वेब सीरीज के नाम पर सेक्स, गालिया और नग्नता परोसी जाती ये तो हम सब जानते है। पर शायद पहली बार समाज...

Latest News

Recently Popular