Monday, July 22, 2024

TOPIC

Taliban returns in Afghanistan

America’s Afghanistan experience: Hubris and patience at its ends

The only lesson that the US may have taken from its Afghanistan campaign is perhaps that it should avoid directly fighting a war. And that is what it is doing in Ukraine.   

Taliban- Islam- and India

Forget the condition of minorities in Islamic nations, even the common men of Islamic community themselves do not enjoy fundamental freedom of speech and expressions.

Reflections on 20 years since 9/11 and the “Taliban to Afghanistan to Taliban (TAT)” outcome

This article is to reflect on 9/11 and how America’s total lack of exit policy meant handing back Afghanistan to the Taliban on a gold platter.

What is next for India and the United States under the Taliban’s Afghanistan

What India has to lose in Taliban’s Afghanistan- a friendly neighbor with a good political equation between India’s Modi and Afghan Presidents until a couple of weeks ago?

भारत का मिशन देवीशक्ति

ये तथ्य भी किसी से छुपा नहीं है की हजारो निर्दोष भारतीयों के हत्यारे मौलाना मसूद अजहर ने तालिबान के सबसे बड़े आतंकी मुल्ला बिरादर से मुलाकात की है काबुल में फैले तलबानी अँधेरे में और इस मुलाकात का एक मात्र मकसद है, तालिबान की सहायता से भारत के कश्मीर में एक बार पुनः आतंकवाद का भयानक तांडव करना।

देवबंदी विचारधारा: तालिबान

तालेबान आन्दोलन को सिर्फ पाकिस्तान, सऊदी अरब और संयुक्त अरब अमीरात ने ही मान्यता दे रखी थी। अफगानिस्तान को पाषाणयुग में पहुँचाने के लिए तालिबान को जिम्मेदार माना जाता है।

The ‘Taliberals’ of India and their hoax propaganda

In their pathetic attempt to compare Hindutva and Islamic terrorism, they are trying to find a common ground between Sharia and Manusmriti, to defend the gun-holding preachers of peace.

The Afghan crisis and right to protect policy of UN

The article focuses on humanitarian issues and, inter alia, on the possible impact on humanitarian action of the concept of the Responsibility to Protect by United Nations, which should be made the basis of the intervention in Afghanistan.

अफगानिस्तान की पूर्व जज का खुलासा: महिलाओं को किया जा रहा प्रताड़ित और उतार रहे मौत के घाट

उन्होंने कहा कि तालिबान झूठे दावे कर रहा है कि वो महिलाओ को पढ़ने जाने देगा और उनका सम्मान करेगा। उन्होने कहा की उन्होने वहाँ कई महिलाओं से बात की, जहाँ महिलाये बताती हैं कि तालिबान महिलाओ के खिलाफ हिंसा और बुरा व्यवहार करता है।

मुनव्वर राणा ने उत्तरप्रदेश की तुलना की तालिबान से, देशभक्त गोडसे को बताया तालिबानी

मुनव्वर राणा का कहना है कि जितनी क्रूरता अफगानिस्तान में है, उससे ज्यादा क्रूरता तो हमारे यहां पर ही है पहले रामराज था, लेकिन अब कामराज है, अगर राम से काम है तो ठीक वरना कुछ नहीं।

Latest News

Recently Popular