Sunday, April 21, 2024

TOPIC

SP

इमरान प्रतापगढ़ी: अनाथ हो गये

ये इमरान प्रतापगढ़ी हि है जो अतिक के मरने के पश्चात स्वयं को अन्नाथ महसूस कर रहे हैँ और मुशायरे में अपने मुहबोले अब्बू अतिक अहमद के प्रसंशा के गीत गाते हुए कह रहे हैँ कि

Akhilesh repeats his mistake to keep up with the alliance partners after the election loss

After the massive loss of the opposition in the 2022 U.P state assembly election by the NDA, the cracks in the SP-led alliance are visible.

UP Polls 2022- Results have sent tremors among naysayers

Who are these 'naysayers'? They constitute a strange spectrum starting from opposition parties, to media and sadly some forces within BJP who wanted the party to return but not Yogi to head the government.

क्या परिवारवाद हि समाजवादी पार्टी का असली समाजवाद है?

अब ज़रा देखते हैं कि मुलायम सिंह यादव और उनके सपूत श्री अखिलेश यादव जी ने किस प्रकार डा राममनोहर लोहिया जी के सामाजवाद का चिरहरण करते हुए किस प्रकार समाजवाद को परिवारवाद में बदलकर उसे पूर्णतया परिवारवादी सामाजवाद बना दिया।

यूपी की गरीब जनता को योगी की राहत

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने दुर्बल आय वर्ग के लिए नीजि विकासकर्ताओं की ओर से बनाए गए मकानों की रजिस्ट्री पांच सौ रूपये में कराने के आदेश देकर गरीब वर्ग को बहुत बडी राहत प्रदान की हैं।

उत्तर प्रदेश चुनाव में केंद्र बिंदु बना हिन्दू

उत्तरप्रदेश एंव केंद्र सरकार ने देश की बड़ी आबादी को भी वही महत्व दिया जो अन्य समुदाय को दिया जाता था भारतीय जनता पार्टी अपने एजेंडे पर आगे बढ़ते रही और एक के बाद एक लगातार चुनाव में जीत हासिल करती रही।

योगी राज में लगातार गिरा अपराध का ग्राफ, अखिलेश सरकार में हुईं सबसे ज्यादा हत्याएं

यूपी में खासकर जब समाजवादी पार्टी सत्ता में आती है तो अपराध के आंकड़े बढ़ जाते हैं जिसके चलते लोग भाजपा की सरकार को याद करते हैं। लोग दोनों सरकार की तुलना करते हैं और भाजपा की सरकार में कानून व्यवस्था को बेहतर मानते हैं।

लखीमपुर खीरी: उत्तर प्रदेश की घटना संयोग या एक और प्रयोग?

घटना वाले दिन से हि कांग्रेस के, आप के, सपा के और बसपा के तथा अन्य पार्टियों के तथाकथित नेता किस आधार पर देश के गृह राज्य मंत्री और ऊनके बेटे के ऊपर किसानों की हत्या का आरोप लगा रहे हैं। वो कौन से साक्ष्य हैं या साक्षीदार है जिनके आधार पर विपक्षी इतना छाती पीट पीट कर आशीष मिश्रा कि गिरफ्तारी कि बात कर रहे हैं, अब तक तो सबकुछ हवा में है।

Why must Owaisi engage with the ‘Samajwadis’?

Mr. Owaisi comparing the Congress as a ‘sinking ship’ and Mr. Rahul Gandhi as the captain who left it, an alliance with any of the major opposition parties except the SP is highly unlikely.

क्या विधानसभा चुनावों में चुनौती दे पाएगा विपक्ष या योगी आदित्यनाथ के चुनावी चक्रव्यूह में फंसा विपक्ष?

राज्य के सभी राजनीतिक दल और क्षेत्रीय क्षत्रप दल आगामी चुनाव के लिए अपनी-अपनी चुनावी बिसात बिछाने में तेजी से जुट गये हैं, कुछ समय पहले संपन्न हुए पंचायत चुनाव व जिला पंचायत अध्यक्ष के चुनावों में इसकी बानगी देखने को मिली है।

Latest News

Recently Popular