Tuesday, March 9, 2021

TOPIC

self reliant india

Modi and an Atmanirbhar Bharat are a match made in heaven

M Modi has had a track record of achieving it in Gujarat. A business-friendly government led by PM Modi combined with a low-corruption regime is the best shot we have got.

स्वदेशीकरण की महत्ता

परन्तु वर्तमान समय में पुनः स्वदेशीकरण की आवश्यकता क्यों महसूस हुई है? इसका मुख्य कारण विश्वभर में फैली कोरोना वायरस की महामारी जिसने विश्व की सप्लाई चेन की व्यवस्था को बुरी तरह प्रभावित कर दिया।

Atmanirbhar is not merely Swadeshi- Here is why

India today stands on the cusp of a potential transformation in the way in which it produces and consumes. Irrespective of the political ideologies people may follow, it is worth to look at the ‘Atmanirbhar Bharat’ movement from an economic perspective.

स्वदेशी, स्वावलंबी, आत्मनिर्भर भारत – संकल्प राष्ट्र का

आत्मनिर्भर भारत मतलब विदेशो की बैसाखी का सहारा छोड स्वयं के पैरो पर खडा भारत, अपनी आत्मा पर निर्भर भारत और भारत की आत्मा उसकी ज्ञान, संस्कृति, सिद्धांत व मूल्य आधारित व्यवस्थायें है, अर्थव्यवस्था जिसका की एक महत्वपूर्ण अंग है।

आज का भारत

पर इस बार मोदी ने लाइन खींच दी है, विश्व को भी आगाह किया है की पागल हाथी बहुत विन्ध्वंस लाता है। डैगन की सारी आग उसी हिमालय में बर्फ बन जाएगी और हाँथी जिधर चलेगा उधर शमशान बनता जाएगा।

India’s moment has arrived!

Whether India becomes Atma Nirbhar or not, depends not just on how India acts but also on global developments, especially in USA, China and Europe, and the recent global Corona-virus pandemic.

Can we boycott Chinese in India?

A practical opinion on the recent demand for boycotting Chinese products, its reception on social media, and a possible way forward amidst ceaseless attacks from opposition

Latest News

Recently Popular