Tuesday, April 20, 2021

TOPIC

People with Narendra Modi

Recurring protests: A double-edged sword for the opposition

By protesting on nearly everything, with every protest ultimately aimed at defaming India at the international stage, disrupting the life of commoners, destruction of property, and a tirade against Hindus, the sympathy of the fence-sitters gradually shifts to Modi.

आखिर उस “चायवाले” के व्यक्तित्व में ऐसा क्या विशेष है?

गुजरात की धरती से एक सूर्य (उस "चायवाले") का उदय हुआ और देखते ही देखते अपने "गुजरात मॉडल" वाले राजधर्म से सम्पूर्ण सनातनधर्मियों के मस्तक पर दस्तक देने लगा और सनातनधर्मियों ने भी इस अवसर को अपने दोनों हाथो से लिया और वर्ष २०१४ से लेकर आज तक वो उस व्यक्तित्व के साथ पूरे स्वाभिमान के साथ जुड़े है और सदैव जुड़े रहेंगे, क्योकि ये जोड़ निस्वार्थ देशप्रेम, धर्मप्रेम व सांस्कृतिक व ऐतिहासिक अभिमान से प्रेरित है"।

Courage, Collectivity and Career in PM Narendra Modi’s 67th episode of Mann Ki Baat

TOday, in its 67th episode of Mann ki baat, Hon'ble Prime Minister talked about courage, collectivity and career as its fulcrum. It informed the world about the courage that our army possess.

Citizens! The government needs your help

we as citizens forget our share of responsibility--an equally significant part of the emblematic agreement between the government and the people.

ओड़िशा में मोदी लोकप्रिय, भाजपा अप्रिय: समीक्षा जरूरी

पोल के मुताबिक, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और प्रधानमंत्री मोदी के तुलना में 66.2% लोगों ने मोदी के पक्ष में मतदान किया, जबकि राहुल गांधी केवल 23.11% लोगों के बीच लोकप्रिय विकल्प थे।

Latest News

Recently Popular