Tag Archives: Media against Narendra Modi

माखनलाल विवि का सत्रारंभ: मोदी को बताया लोकतंत्र और पत्रकारिता के लिए संकट

सोची समझी रणनीति के तहत मोदी विरोधियों को उद्बोधन के लिए बुलाया गया था। नए छात्रों को पत्रकारिता की चुनौतियों से निपटने की बजाए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी को चुनौती के रूप में पेश किया गया। पूरे सत्र के दौरान मोदी को खलनायक के रूप में पेश किया गया।

Fascism is here in India

The election campaign in Bengal, violence in pockets of Andhra Pradesh, Kerala, Karnataka, Odhisha, and some others, gives us a first-hand example of what Fascism actually is.

मौन से अच्छा मन की बात, पहले 25 लोग सवाल कर पाते थे, अब 125 करोड़

यदि विपक्ष के आरोपों और मोदी जी के उत्तरों को सरलतम शब्दों में समझा कर निष्कर्ष निकालने की कोशिश करें तो हमनें भी कुछ सवाल पाए, क्या सरकारों से सवाल करने का ह्क मीडिया को ही होना चाहिए?

The opinions expressed within articles on "My Voice" are the personal opinions of respective authors. OpIndia.com is not responsible for the accuracy, completeness, suitability, or validity of any information or argument put forward in the articles. All information is provided on an as-is basis. OpIndia.com does not assume any responsibility or liability for the same.