Friday, April 23, 2021

TOPIC

Islam Radical

Breaking free from the chains of Islam

Tale of a Muslim lady of why she left Islam and how she found solace in Hinduism!

हम राम के भक्त है या बाबर के वारिस?

बाबर विदेशी हमलावर, हमारा शत्रु था। बाबर के संबंध में गुरु नानकदेवजी ने कहा है, बाबर का राज माने पाप की बारात। उस बाबर ने मंदिर तोडा, उस बाबरी ढांचे के लिए चिल्लाना यह अराष्ट्रीयता है।

“दर-अल-हरब” से “दर-अल- इस्लाम” तक: इस्लाम को अपने इन सिद्धांतों को बदलना होगा

इस्लामी धर्मशास्त्र में “दर अल-हरब” और “दर अल-इस्लाम” के मायने क्या हैं? इन शब्दों का क्या मतलब है और यह मुस्लिम राष्ट्रों और चरमपंथियों को कैसे प्रवृत्त और प्रभावित करता है?

गुस्सा या आदत?

बाबरी के गुस्से से दंगो को जस्टिफाई करने वालों ये बताओ की जून 1851 में "माइनॉरिटी"-पारसी दंगो को कैसे जस्टिफाई करोगे? बस एक छोटा सा लेख ही तो लिखा था "चित्रा दिनन दर्पण" नामक मैगजीन ने।

The tale of “Naseeruddin Shah’s intolerance”

If Naseeruddin Shah Introspects his own personal life, will, he be able to name even 5 Muslim majority countries which legally allow a Muslim lady to marry a Non-Muslim man without both the parties converting?

हिंदुओं के अस्तित्व की बात: हिंदुओं के विश्वास की बात

जब तक हमें हमारे पहचान (हिंदू होने) पर विश्वास नहीं आएगा, हम कभी भी इस्लाम के सामने बच नहीं पाएँगे

ToI’s mainstreaming stupidity or a pure paid news by Congress?

Times Of India once again glorifies Rahul Gandhi's speech in its Op-Ed.

Latest News

Recently Popular