Tuesday, April 20, 2021

TOPIC

congress

शांत कश्मीर और चिदंबरम का 370 वाला तीर

डॉ. मनमोहन सिंह की सरकार के सबसे शक्तिशाली मंत्रियो में से एक चिदंबरम आज वही भाषा बोल रहे है जो पाकिस्तान संयुक्त राष्ट्र तथा अन्य अंतर्राष्ट्रीय मंचो पर बोलता आया है। चिदंबरम यही नहीं रुके उन्होंने अलगाववादियों को भी महत्व देने की बात कही है।

बिहार चुनाव फैसला किसके पक्ष में?

नीतीश कुमार जो कि वर्तमान में मुख्यमंत्री हैं और सुशासन बाबू के नाम से जाने जाते हैं उन्होंने जेडीयू की पूर्व मंत्री मंजू वर्मा जो कि मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड की आरोपी हैं और फिलहाल जमानत पर बाहर हैं उन्हें टिकट देकर अपने सुशाशन की पोल खोल दी है।

किसान मुद्दा- क्या केवल विपक्ष जिम्मेदार है?

उचित तर्कों के अभाव में जो लड़ाई विपक्ष संसद में हार गया उसे वो भोले भाले लोगों को गुमराह करके सड़कों पर जीतने का प्रयास कर रहा है।

A take on the rising anti Hindu chant

Hindutva is being targeted by the opposition as it is some sort of disease that one needs to get rid of; which has and which will backfire!

Amnesty or travesty

Why they are afraid to disclose their funding? Why only 10% registered NGOs file their balance-sheets with Registrar of Societies? No NGO is ready to answer these questions except for playing victim card.

The strange relations: Remembering Pranab Mukherjee

The man, who, according to many Congressmen, should have succeeded Indira by merit, was trashed by the dynasty as an example of poetic injustice, as it were.

ऐसे थे हमारे प्रणव दा

यह किस्सा राजनीतिक जीवन में कितना प्रेरणादायक है कि किस तरह अपने सिद्धांतों से समझौता किये बिना अपने मित्र धर्म का पालन किया जा सकता है और समाजिक जीवन में किस तरह से समाज के उत्थान का कार्य हम कर सकते हैं अपने पद की मर्यादा का ध्यान रखते हुए।

Why Rahul Gandhi is not capable to lead India

UPA, under Rahul’s leadership, had become synonymous to a party whose only agenda is to appease a selective section of the society. Without stating obvious facts and digestible reasons, Rahul Gandhi and his party irrationally opposed all the decisions made by the current government.

उठापटक के बीच अब इस्तीफे के मूड में ‘सोनिया गांधी’

सूत्रों की मानें तो अब कांग्रेस पार्टी की अंतरिम अध्यक्षा कभी भी अपने पद से इस्तीफा दे सकती हैं। सोनिया गांधी के द्वारा लगातार यह कहा जा रहा है कि अब पार्टी को नए अध्यक्ष की तलाश करनी चाहिए।

The Wall Street Journal (WSJ) and the spiral of propaganda

WSJ seems to be pushing the same Chinese propaganda to show the Modi-trump alliance in a bad light so that Biden whose ideologies align with our foe China can be victorious.

Latest News

Recently Popular