Saturday, January 23, 2021

TOPIC

Christianity

Secularism- A bane or a boon for contemporary world?

Introduction 21st century has thrown up myriad challenges to humanity. The very character of the human psyche is...

Differences between natural religions and reactionary religions

It is the distinction between idol worshipers and idol smashers, the distinction between cow worshipers and beef eaters,the distinction between Devi worshipers and women offenders, the distinction between the sacredness of marriage and the system of Halala.

Kaun jaat ho and Christian missionaries

Ugly face of Christianity, the most hypocratic religion of the world!

भारत मे समुदायों के बीच क्यों बढ़ रहा है तनाव?

धर्म का अर्थ केवल हिन्दू,मुस्लिम नही है। संस्कृत में कहा गया है "धारयति इति धर्म:" जिसका अर्थ है 'धर्म वह है जिसे धारण किया जा सके'।

Is proselytization a tool of radicalization?

Interesting war amongst converts with non-converts and with newly converts!

Bed-venture circus: Separatists, fundamentalists & propagandists

Bed-Venture Circus: Christianity, Islam & Communism. Everybody wants a piece of Bharat and I am not going to let them have it. (by @ashachanta)

ईसाई मिशनरी षड्यंत्रों के जाल में

इस्लामिक कट्टरवाद भारत के लिए सीधा शत्रु है लेकिन ईसाई कट्टरवाद अदृश्य खतरा है जो कि भीतर ही भीतर हमें खोखला कर रहा है। हमें भूतकाल से सीखना होगा कि किस प्रकार रोमन सभ्यता और साम्राज्य का विनाश हुआ। कहीं ऐसा न हो कि हमें भी वही दिन देखने पड़ें!

यहूदी राष्ट्रीयता

जहाँ इस्लाम और ईसाई धर्म के बढ़ते प्रभाव से विश्व के कई रिलिजन समाप्त हो गए है या समाप्त होने की स्थिति में है, वही यहूदियों के यह संघर्ष और जिजीविषा उनको एक पहचान और एक महत्वपूर्ण स्थान देता है।

Is Hindutva the same as Hinduism?

The word Hindutva therefore, applies to any Hindu who thinks of and stands for being Hindu, whether or not one uses that word for oneself. In fact it is not applied to individuals in any case.

My journey through Greece, a discovery of India

Some great similarities between Indian and Greece culture.

Latest News

The historic and hopeful January 20, 2021

Let January 20 serve as a stark reminder for the world at large that the democracy may have been halted temporarily but it has returned with greater hope and not fear.

खालसा पंथ की सिरजना के पीछे का ध्येय और गुरु गोबिंद सिंह जी

गुरु गोबिंद सिंह जी द्वारा स्थापित खालसा पंथ और उनकी बलिदानी परंपरा के महात्म्य को समझने के लिए हमें तत्कालीन धार्मिक-सामाजिक-राजनीतिक पृष्ठभूमि और परिस्थितियों पर विचार करना होगा।

कश्मीरी हिन्दूओ का नरसंहार और 31 साल का इंतजार

19 जनवरी 1990 का वो दिन कोई भी कश्मीरी हिन्दू कभी नहीं भूल सकता। 19 जनवरी 1990 का वो दिन न सिर्फ भारत के लिए बल्कि पूरे विश्व के लिए एक काला दिन है।

धार्मिक आतंकवाद

समाज का एक धड़ा है जो कि शकुनि और मंथरा से भी लाखों गुना कपटी और क्रूर है, जो धर्मनिपेक्षता, उदारवादिता और बुद्धिजीविता का नक़ली मुखौटा लगाये आपकी मानकिसकता पर क़ब्ज़ा कर आपके आत्मसम्मान और पहचान को अपंग बनाये बैठा है।

Tale of India’s greatest test victory in Australia

Finally the Indian flag hung around one of the unbreached fortresses at Gabba. The haughtiness which Australians displayed on the field was put down to dust by fearless Indians.

Recently Popular

Daredevil of Indian Army: Para SF Major Mohit Sharma’s who became Iftikaar Bhatt to kill terrorists

Such brave souls of Bharat Mata who knows every minute of their life may become the last minute.

गुप्त काल को स्वर्ण युग क्यों कहा जाता है

एक सफल शासन की नींव समुद्रगप्त ने अपने शासनकाल में ही रख दी थी इसीलिए गुप्त सम्राटों का शासन अत्यधिक सफल रहा। साम्राज्य की दृढ़ता शांति और नागरिकों की उन्नति इसके प्रमाण थे।

5 Cases where True Indology exposed Audrey Truschke

Her claims have been busted, but she continues to peddle her agenda

Taj Mahal Secrets (part-2)

Some unexplainedfacts of Taj Mahal

Girija Tickoo murder: Kashmir’s forgotten tragedy

her dead body was found roadside in an extremely horrible condition, the post-mortem reported that she was brutally gang-raped, sodomized, horribly tortured and cut into two halves using a mechanical saw while she was still alive.