Sunday, May 19, 2024

Satire

राजनीति के चमन चकोर

बड़ी मुश्किल से और कोरोना की कृपा से उत्तर प्रदेश के लोग भाजपा सरकार से दूसरे मुद्दों पे सवाल कर रहे थे, जिससे चकोरों को फयदा हो सकता था, मंदिर को बीच में ला के इन्होने फिर से वही मोह पैदा कर दिया, जो डैमेज कंट्रोल बीजेपी २ महीने में नहीं कर पाती या शायद चुनाव तक, उसको इन्होने रामलला को बीच में ला के कर दिया।

Yes, I am not going to Vote for Modi now

You have disappointed me, Mr. Modi. I will not vote for you again now. I had voted you for Ram Mandir, Where is that?

The travails of oped writers: How they react with recent election results

How the left brigade take the election results to keep their nose up in any circumstances like: Head I win; tail you loose

Did Shakespeare know our pseudo secular journalists?

Back in late 1500s, he uses his skills to describe the rationale of some of the 'secular' faces of our nation.

Meghan Markle promises to return the Kohinoor to India

The Kohinoor is coming back to where it truly belongs.

मोदी मोटेरा और झन्नू

हमारे कांग्रेसी बंधू इस मुद्दे पे किस मुँह से बोल रहे है? अकेले नेहरू चचा और शाही परिवार के नाम पे २३ से ज्यादा स्टेडियम और १९ खेल पदक है। इसी वंशावली में ऐसे प्रधानमंत्री भी हुए, जिन्होंने खुद को ही "भारत रत्न" दे डाला।

वैलेंटाइन वीक में युवराज के लिए लड़की ढूंढ़ते कांगी: बेवकूफी इज मस्ट

आपको इस बौद्धिक पिछड़े के लिए कहीं बेवकूफी मिले, तो इसको इत्तला करें, वैसे उसके दरबारी पत्तलकार और चाटुकार इसे सदी की महानतम लव स्टोरी बता वैलेंटाइन वीक का मजा ले रहे हैं।

Author Saba Naqvi displays her sheer stupidity by comparing follower count of Rihanna and PM Modi on Twitter

On Feb 2, 2021, Saba Naqvi tweeted "#Rihanna has 100 Million followers on twitter while the PM of the world’s most populous democracy who...

राहुलजी की ध्यान-यात्रा

राहुलजी की विदेश-यात्राएं हमेशा ही देश के लिए कौतूहल का विषय रही हैं। वैसे तो राहुलजी का पूरा व्यक्तित्व ही रहस्यमय है: उनका खान-पान,...

कोरोना वैक्सीन और सेकुलर मित्र

इस्लाम नहीं मानता कि पृथ्वी गोल है और सूर्य के चक्कर काटती है। किसी ने क्या कर लिया उनका, और क्या बिगड़ गया उनका ऐसा मानने से? पाकिस्तान में दोनों तरह की साइन्स पढ़ाई जाती है: पृथ्वी के गोल और सूर्य के चारो ओर घूमने वाली भी, और उसके चपटी और स्थिर होने वाली भी, जिसको जो मानना हो, माने। यह होता है असली लोकतन्त्र!

Latest News

Recently Popular