Tag Archives: National Language Hindi

नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति और भाषा विवाद का जिन

यदि हम इसी तरह भाषाई मामलों पर तल्‍खी लाते रहे तो वह दिन दूर नहीं जब भारत के हालात भी यूरोप जैसे हो जाए। इसलिए एक स्‍थायी देश के निर्माण के लिए समाजवाद और राष्‍ट्रवाद दोनों जरूरी हैं, भाषाई विवाद नहीं।

Why not Hindi?

Do we once again fall into this trap and get divided or do we say enough and believe that we all are Indians and the division is only in the eyes of those liberals who try to influence us?

राजभाषा हिंदी का विकास और यथास्थिति

बहुभाषी समाज में अपने विचारों के आदान-प्रदान के लिए संपर्क भाषा हिन्दी ही हो सकती है। हिन्दी भाषा समस्त देश-विदेशवासियों को एक सूत्र में बांधने वाली भाषा है।

The opinions expressed within articles on "My Voice" are the personal opinions of respective authors. OpIndia.com is not responsible for the accuracy, completeness, suitability, or validity of any information or argument put forward in the articles. All information is provided on an as-is basis. OpIndia.com does not assume any responsibility or liability for the same.