Tag Archives: Jammu and Kashmir politics

Trails of democracy (Kashmir story)

From Kalhan’s Rajatarangini talking about Kings of Kashmir to the last ruling King of Dogra dynasty, Kashmir took a long path to democracy, yet democracy remained elusive leaving some trails down the way.

Advertisements
शेहला राशिद शोरा

कश्मीर में शेहला राशिद बनना चाहती थीं नेता, मगर लोकतंत्र की दुहाई देकर खुद ही भाग गईं

शेहला राशिद जेएनयू में शोध करने वाली एक कश्मीरी छात्रा हैं जिसने हाल ही में भारत सरकार द्वारा कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाने के बाद सेना और सरकार को लेकर विवादित बयान भी दिया था इसीके बाद उनपर राजद्रोह का केस दर्ज किया गया था जिसके साथ शेहला की मुश्किलों का एक नया दौर शुरू हो गया.

Right to life vs right to liberties

The entire gamut with plethora of gun totting, media cynics and politico religious self-styled heritors of J&K have only succeeded in creating a sense of insecurity and fear of life amongst the common masses of J&K.

Bharat is whole at last

It took us 70 long years to undo a glaring wrong and a monumental mistake committed by our leaders of the past but finally that day has come and it isn’t a day too soon.

जम्मू-कश्मीर में एक “कुव्यवस्था” का अंत

आज जम्मू -कश्मीर के पास एक सुनहरा अवसर है की वह इस फैसले को सहर्ष स्वीकार कर के खुद और आने पीढ़ी को एक स्वर्णिम भविष्य दे जिसमे आतंकवाद और अलगवाद का कोई स्थान ना हो ना ही मुफ़्ती-अब्दुल्लाह जैसे स्वार्थी-वंशवादी जैसे लोग हो जो आम कश्मीरी अवाम को सपने बेचते है।

The opinions expressed within articles on "My Voice" are the personal opinions of respective authors. OpIndia.com is not responsible for the accuracy, completeness, suitability, or validity of any information or argument put forward in the articles. All information is provided on an as-is basis. OpIndia.com does not assume any responsibility or liability for the same.