Tuesday, April 16, 2024

TOPIC

fundamentalism

जाति-धर्म के नाम पर बढ़ता उन्माद देश व समाज के लिए घातक

देश की राजधानी दिल्ली से लेकर के देश के अलग-अलग शहरों में रामनवमी व हनुमान जन्मोत्सव के धार्मिक जुलूसों पर पथराव के चलते जबरदस्त ढंग से हंगामा बरपा हुआ है, देश में धर्म पर आधारित राजनीति चंद दिनों में ही अपने अधर्म के चरम पर पहुंच गयी है।

The Eleventh of September: On the same date, two men with their ideologies left a mark in the human history

September 11 of 1893 saw Swami Vivekananda explaining the meaning of Sanatana Dharma to the world.

देवबंदी विचारधारा: तालिबान

तालेबान आन्दोलन को सिर्फ पाकिस्तान, सऊदी अरब और संयुक्त अरब अमीरात ने ही मान्यता दे रखी थी। अफगानिस्तान को पाषाणयुग में पहुँचाने के लिए तालिबान को जिम्मेदार माना जाता है।

Bed-venture circus: Separatists, fundamentalists & propagandists

Bed-Venture Circus: Christianity, Islam & Communism. Everybody wants a piece of Bharat and I am not going to let them have it. (by @ashachanta)

गमला कट्टरवाद का!

यदि किसी अवधारणा में ज़्यादा अतिवादिता हैं तो क्या वोह उस धारणना की विफ़लता नहीं है? कम से कम संचार की विफ़लता तो मान ही सकते है।

Why do leftists all over the world spread Islamophobia?

Leftists are so engrossed in their ideology and beliefs that they can also be termed as "brainwashed" just like these terrorists, Their propaganda is being most harmful to the common Muslims, the very people they are claiming to protect.

Latest News

Recently Popular