Saturday, October 23, 2021

TOPIC

Taliban atrocities on locals in Afghanistan

Reflections on 20 years since 9/11 and the “Taliban to Afghanistan to Taliban (TAT)” outcome

This article is to reflect on 9/11 and how America’s total lack of exit policy meant handing back Afghanistan to the Taliban on a gold platter.

भारत का मिशन देवीशक्ति

ये तथ्य भी किसी से छुपा नहीं है की हजारो निर्दोष भारतीयों के हत्यारे मौलाना मसूद अजहर ने तालिबान के सबसे बड़े आतंकी मुल्ला बिरादर से मुलाकात की है काबुल में फैले तलबानी अँधेरे में और इस मुलाकात का एक मात्र मकसद है, तालिबान की सहायता से भारत के कश्मीर में एक बार पुनः आतंकवाद का भयानक तांडव करना।

देवबंदी विचारधारा: तालिबान

तालेबान आन्दोलन को सिर्फ पाकिस्तान, सऊदी अरब और संयुक्त अरब अमीरात ने ही मान्यता दे रखी थी। अफगानिस्तान को पाषाणयुग में पहुँचाने के लिए तालिबान को जिम्मेदार माना जाता है।

अफगानिस्तान की पूर्व जज का खुलासा: महिलाओं को किया जा रहा प्रताड़ित और उतार रहे मौत के घाट

उन्होंने कहा कि तालिबान झूठे दावे कर रहा है कि वो महिलाओ को पढ़ने जाने देगा और उनका सम्मान करेगा। उन्होने कहा की उन्होने वहाँ कई महिलाओं से बात की, जहाँ महिलाये बताती हैं कि तालिबान महिलाओ के खिलाफ हिंसा और बुरा व्यवहार करता है।

अफगानिस्तान पर तालिबानी कब्जा, यौन दासता की गम्भीर आशंका, ये लोग है निशाने पर

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल पर कब्जे के बाद तालिबान का पहला मिशन उन लोगों को ढूंढ-ढूंढकर खत्म करना है, जिन्होंने अमेरिकी सेना या सरकार का समर्थन किया था।

Latest News

Recently Popular