Tuesday, October 4, 2022

TOPIC

Moral Values

A note to the left about our Indian values

In our tradition the prayer is hardly ever for one’s own happiness and prosperity. It is always for collective happiness and the removal of everyone’s distress.

रेप और अश्लील वीडियो

दुर्भाग्यवश आज मॉरल वेल्यू की किताब ने रामायाण, गीता की जगह ले ली हैं। हालात ऐसे हैं कि यदि कोई गलती से भी ये कह दे कि स्कूली पाठ्यक्रम में इन ग्रन्थों को शामिल किया जाए तो चारों ओर से सब राजनीति चमकाने में लग जायेंगे।

All a matter of winning

Why are we mechanized to see the end result as 'win or lose'?

कर्ण को चुकानी पड़ी एक असत्य की कीमत अपने प्राण दे के

पका बोला या किया हुआ असत्य आपको ऐसे वक्त चोट पहुँचाता है, जब आपको उसकी उम्मीद नहीं होती। यह शाश्वत सत्य है।

Latest News

Recently Popular