Tuesday, October 20, 2020

TOPIC

Atrocities on Hindus

Why Ram Mandir

generation or two, Bharatiyas have resisted, sacrificed and survived one invasion after another. The reclaiming of this ancient site and building a grand temple is a civilization accepting the challenge of the competing invasive cultures and declaring in one voice that we are here to stay.

मोपला में हुआ हिंदुओं का नरसंहार और नॉर्थ ईस्ट दिल्ली में हुए दंगे

यह महज एक हिंदू-मुस्लिम दंगा नहीं अपितु नियोजित सोद्देश्य हिंसा थी उन लोगो ने देखते ही देखते मोपला के 20 हजार से भी ज्यादा हिन्दूओ को काट दिया। जिसमें अनगिनत हिंदू जख्मी हुए और हजारो का धर्म-परिवर्तन हुआ।

To the youth – Please understand the mind of an average Hindu

Unfortunately, the average Hindu finds little presence in the academia and intelligentsia, which has ever trivialized the sufferings of the Hindus. The world knows of the injustices perpetrated upon the Jews and rightfully acknowledges them, but it knows not of the injustices perpetrated upon the Hindus

Girija Tickoo murder: Kashmir’s forgotten tragedy

her dead body was found roadside in an extremely horrible condition, the post-mortem reported that she was brutally gang-raped, sodomized, horribly tortured and cut into two halves using a mechanical saw while she was still alive.

Great Muslim rulers : The myth and the reality

It is time that history books reevaluate the acts of these so called great Muslim rulers. The lie that bigotry and communalism in India started only after 1857 needs to be dispelled.

सती प्रथा: एक समग्र विश्लेषण

विधवा विवाह और सती प्रथा दो विपरीत प्रथाएँ हैं जिनका सह-अस्तित्व कभी भी संभव नहीं। अर्थात अगर विधवा विवाह प्रचलित है तो सती प्रथा का कोई औचित्य ही नहीं है। निस्संदेह सती प्रथा मूल हिंदू धर्म का कोई अंग नहीं था। फिर यह कुरीति समाज में कैसे शुरू हुई?

From Archives – M.K. Gandhi’s reactions on Mob-Violence

We may doubt and debate if Gandhi understood meaning of taqiyya and kitman. But his commentaries, observations and reactions during this period do indicate that he practiced these to perfection.

जाति है कि जाती नही

जाति की राजनीति करने वाले सभी नेता ब्राह्मणवाद विचारधारा से ग्रसित हैं, क्योंकि वह समाज में एकीकृत भाव का निर्माण होने ही नहीं देना चाहते। बाकि समझ अपनी-अपनी।

[West Bengal] Muslim mob pelt stone and vandalize roadside shops after residents protested against alcohol consumption outside their house

A part of the Muslim mob entered the house of one Hindu resident and assaulted the owner and his grandson.

Temple vandalism in Delhi: Blot on BJP’s image

If we condemn Congress Muslim appeasement; we cannot approve Modi Government's appeasement policies.

Latest News

शांत कश्मीर और चिदंबरम का 370 वाला तीर

डॉ. मनमोहन सिंह की सरकार के सबसे शक्तिशाली मंत्रियो में से एक चिदंबरम आज वही भाषा बोल रहे है जो पाकिस्तान संयुक्त राष्ट्र तथा अन्य अंतर्राष्ट्रीय मंचो पर बोलता आया है। चिदंबरम यही नहीं रुके उन्होंने अलगाववादियों को भी महत्व देने की बात कही है।

मिले न मिले हम- स्टारिंग चिराग पासवान

आज के परिपेक्ष्य में बिहार का चुनाव कई मायनो में अलग है। मुख्यमंत्री और उप मुख्यमंत्री पारम्परिक राजनीती वाली रणनीति का अनुसरण कर रहे है तो वही युवा चिराग और तेजस्वी विरासती जनाधार को नए भविष्य का सपना दिखने का प्रयास कर रहे है।

How BJP can win seats in Tamil Nadu and Kerala

It is time for BJP to eye on Tamil Nadu and Kerala. In Lok Sabha election 2024 BJP will win ±15 seats in TN and ±3 seats in Kerala.

Brace for ad Jihad

Delusionary fairy tale

Why this hullabaloo about shifting Bollywood?

Let the new film city emerge as the genuine centre for producing high quality films that are genuinely Indian and be helpful in building a strong value-based society.

Recently Popular

Jallikattu – the popular sentiment & ‘The Kiss of Judas Bull’ incident

A contrarian view on the issue being hotly debated.

सामाजिक भेदभाव: कारण और निवारण

भारत में व्याप्त सामाजिक असामानता केवल एक वर्ग विशेष के साथ जिसे कि दलित कहा जाता है के साथ ही व्यापक रूप से प्रभावी है परंतु आर्थिक असमानता को केवल दलितों में ही व्याप्त नहीं माना जा सकता।

How I was saved from Love Jihad

A personal experience of a liberal urban woman and her close brush with Islam.

Twitter wrongfully reports Jammu & Kashmir’s location again

In February of this year Twitter was accused of getting Jammu & Kashmir’s location wrong.

हिंदू धर्म की भावनाओं को ठेस पहुंचाना कहां तक उचित है??

विज्ञापन में दिखाए गए पात्रों के धर्म एक दूसरे से बदल दिए जाएं तो क्या देश में अभी शांति रहती। क्या तनिष्क के शोरूम सुरक्षित रहते। क्या लिबरल तब भी अभिभ्यक्ती की स्वतन्त्रता की बात करते।