Wednesday, April 21, 2021

TOPIC

Rahul Gandhi Corruption

लूट की दुकान: राजीव गाँधी फाउंडेशन

राजीव गाँधी फाउंडेशन की अध्यक्ष सोनिया गाँधी हैं और राहुल गाँधी, प्रियंका वाड्रा, चिदंबरम और मनमोहन सिंह इसके अन्य ट्रस्टी हैं. इस ट्रस्ट ने सभी नियमों कानूनों को ताक पर रखकर न सिर्फ विदेशी संस्थाओं से दान लिया है, बल्कि प्रधान मंत्री नेशनल रिलीफ फण्ड, केंद्र सरकार के मंत्रालयों और विभिन्न सरकारी कंपनियों से भी काफी मात्रा में दान लिया है.

What is wrong with talking about Rajiv Gandhi, the disgraced ex Prime Minister of our country?

Please stop teaching this country who to respect and who not to, dear entitled Prince and Princess and your coterie of misfits because you have lost that right the moment you pushed this country into ruins, strife and civil and economic degradation.

रक्षा सौदों की दलाली में राहुल गाँधी रंगे हाथों पकडे गए

जहां राहुल गांधी की यूके आधारित बैकओप्स लिमिटेड कंपनी की कार्यशैली संदेह के घेरे में रही, वहीं दूसरी ओर भारत आधारित बैकओप्स सर्विस प्राइवेट लिमिटेड भी कई विवादास्पद प्रोजेक्ट्स का हिस्सा रही.

How much more can we suffer this entitled prince?

Here is a man (Rahul Gandhi) whose entire lineage is drawn into corruption, openly saying that he will rip someone's character (Modi) to shreds even though that said someone is known to be incorruptible!

Latest News

Recently Popular