Sunday, April 14, 2024

TOPIC

Bharat Jodo Yatra

महाभारत से ‘भारत जोड़ो यात्रा’ का संदेश और लाभ

राहुल गाँधीकी भारत जोड़ो यात्रा से ध्यान में आया कि पांडवों ने और भी बहुत सारे काम नहीं किए थे। जैसे पांडवों ने पाकिस्तान नहीं बनने दिया, बांग्लादेश नहीं बनने दिया, पांडवों ने धारा 370 भी नहीं लगाई, पांडवों ने पूजा स्थल कानून (places of worship act 1991) भी नहीं बनाया जिससे हजारों मंदिरों पर अवैध कब्जा वैध हो गया, पांडवों ने संविधान में संशोधन करके 'सेकुलर' शब्द भी नहीं जोड़ा था। लेकिन कोई बात नहीं बाद में कुछ लोगों ने इन कामों को भी पूरा कर दिया।

Left to right journey that makes one a Sanghi

This author isn’t a Rashtriya Swayamsevak Sangh (RSS) member, nor is he such with any of its affiliated including Bharatiya Janata Party (BJP). Yet he is branded Sanghi by some elements who read his social media comments.

‘Bharat Jodo Yatra’ and Rahul Gandhi

The Bharat Jodo Yatra of Rahul Gandhi has taken a break after reaching Delhi on 24 December 2022, just in time, to allow him to celebrate Christmas with his family. Being a Roman Catholic Christian, this is an important religious obligation on his part.

Latest News

Recently Popular