Saturday, February 27, 2021
2 Articles by

spcool96

वामपंथ: “अ” से लेकर “ज्ञ” तक (दूसरा भाग)

आज बात करेंगे कि "साम्यवाद" और "वामपंथ" आखिर किस तरह काम करते हैं, किस तरह भारत देश की व्यवस्था में ये लोग सेंधमारी कर चुके हैं और इनका "नक्सलियों" से क्या संबंध है?

वामपंथ: “अ” से लेकर “ज्ञ” तक

चूंकि वामपंथी अराजकता का समर्थन करते हैं और उनका मानना है कि वर्तमान में जो तंत्र, जो व्यवस्था देश में है वह भ्रष्टाचार से लिप्त है और इसे उखाड़ कर फेंक देना चाहिए और नये सिरे से साम्यवादी सिध्दांतों के साथ नया तंत्र बनाना चाहिए।

Latest News

Recently Popular